उत्तर प्रदेश

एक साथ 3 फंगस से संक्रमित ने तोड़ा दम, गाजियाबाद के मरीज में मिला था ब्लैक, व्हाइट और यलो फंगस

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में ब्लैक, व्हाइट और यलो फंगस ​​​​से संक्रमित देश के इकलौते मरीज ने शनिवार को दम तोड़ दिया। ये देश का इकलौता केस था, जिसमें एक ही मरीज में एक साथ तीनों फंगस पाए गए थे। परिजनों ने कहा कि वह एक हफ्ते से एंफोटेरिसिन-बी इंजेक्शन के लिए भटक रहे थे, लेकिन नहीं मिला। अगर मिल जाता तो जान बच सकती थी। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मरीज की मौत हार्ट अटैक से हुई।

61 साल की उम्र, ऑक्सीजन लेवल कम हो गया था
संजयनगर के जी-ब्लॉक में रहने वाले कुंवर पाल की उम्र 61 साल थी। अप्रैल माह की शुरुआत से ही उनके फेफड़ों में दिक्कत शुरू हो गई थी। ऑक्सीजन लेवल भी काफी कम होने लगा था। इलाज के बाद वह ठीक हो गए थे, लेकिन बाद में उनकी नाक से अचानक खून निकलने लगा और आंखों में सूजन बढ़ गई। डॉक्टर्स ने जांच की तो पता चला कि उनमें ब्लैक फंगस के लक्षण हैं। डॉक्टर बीपी त्यागी ने जांच की तो पता चला कि कुंवर पाल में ब्लैक के साथ व्हाइट और यलो फंगस भी है।

इंजेक्शन के लिए परेशान रहे परिजन
कुंवर पाल के बेटे के अनुसार, डॉक्टर्स ने फंगस के लक्षण मिलते ही एंफोटेरिसिन-बी इंजेक्शन लाने को कहा। पहले दिन तो इंजेक्शन आराम से मिल गया, लेकिन इसके बाद नहीं मिल पाया। लगातार वह इसके लिए प्रशासनिक अफसरों के यहां चक्कर काटते रहे, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। इस बीच, उनके पिता की हालत लगातार खराब होते रही और शनिवार को उनकी मौत हो गई।

Back to top button