देश

इज़रायल पर हमला बोलने पाकिस्तानी विदेश मंत्री CNN पर गये, गजब बेइज्जती करवाकर लौटे

पाकिस्तान एक ऐसा देश है जो कि दोगलेपन की सारी पराकाष्ठा को पार कर चुका है। इजरायल और फिलिस्तीन के बीच हुए सीजफायर और इजरायल द्वारा किए जा रहे कथित “नरसंहार” को लेकर पाकिस्तान इजरायल पर बरस रहा है। सीजफायर के मुद्दे पर पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी अब इजरायल को लताड़ने पर उतारू हो गए हैं। पहले संयुक्त राष्ट्र सभा में कुरैशी ने इजरायल को खरी खोटी सुनाई। इतना ही नहीं, उसके बाद CNN में एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने मीडिया कवरेज को पक्षपाती बताने की भी कोशिश की, जिसके बाद CNN की एंकर बियना गोलोड्रिगा ने उन्हें और पाकिस्तान के दोगलापन को सबके सामने एक्सपोज किया।

CNN के अंतर्राष्ट्रीय टीवी चैनल पर पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने साक्षात्कार के दौरान इजराइल की आलोचना की। उन्होंने कहा कि “इजराइल अब हार रहा है। यही कारण है कि उसने सीजफायर किया है। इजराइल और फिलीस्तीन के बीच इस लड़ाई को लेकर अन्तर्राष्ट्रीय मीडिया ने पक्षपाती रवैया अपनाया हैं”। आगे उन्होंने यहाँ तक कह डाला कि इजरायल दुनियाभर की मीडिया को कंट्रोल करता है और अपना एजेंडा आगे फैलाता है। CNN की एंकर इसपर भड़क गईं जिसके बाद कुरैशी के लिए मुसीबतें खड़ी हो गईं। एंकर ने कुरैशी से पूछा, “’मीडिया को नियंत्रित’ और ‘मीडिया कनेक्शन’ वाले उनके बयान का क्या मतलब है?”

कुरैशी अचानक एंकर के इस सवाल से सकपका गए, और हंसकर बात टालने की कोशिश करने लगे। उन्होंने कहा, “इजरायल के हमलों की कवरेज में मीडिया पक्षपात करता है और मीडिया संगठनों में उसका प्रभाव है।” CNN की पत्रकार ने कहा की वो महमूद कुरैशी के बयान को ‘यहूदियों के खिलाफ टिप्पणी’ कहेंगी। इतना ही नहीं, पाकिस्तान के इस्लामिक नियमों और एकता की नौटंकियों को भी एंकर ने खूब लताड़ा।

शाह महमूद कुरैशी लगातार इजरायल द्वारा मुस्लिम समाज के लोगों पर किए गए हमलों की बात कर रहे थे। इसको लेकर एंकर ने कुरैशी से उइगर मुस्लिमों के साथ चीन में हो रहे अत्याचारों का सवाल खड़ा कर दिया, जिसे सुन वो चौंक गए क्योंकि शायद उन्हें इस प्रश्न की उम्मीद नहीं थी। उन्होंने कहा, “चीन हमारा अच्छा दोस्त है, हमारी उनसे इस मसले पर लगातार बातचीत होती रहती है, लेकिन सार्वजनिक तौर पर वो इस मुद्दे पर कुछ भी नहीं बोलेंगे।”

इतना ही नहीं, कुरैशी से चीन को लेकर एंकर ने कुछ तीखे सवाल कर दिए और कहा कि पाकिस्तान को चीन से कर्ज मिलता है, जिसके कारण पाकिस्तान चीन को कुछ नहीं बोलता। ये एक ऐसा सवाल था जो कि कुरैशी के लिए सबसे चुभने वाला था। यही कारण है कि वो इस सवाल को टाल गए। सटीक शब्दों में कहा जाए तो CNN के चैनल पर कुरैशी की बेइज्जती हुई जिसे सहन करने के बाद वो कुतर्क कर रहे थे, जो कि पाकिस्तानी नेताओं का पुराना चरित्र है।

Back to top button