देश

इस सरकारी स्कीम में लगाएं पैसे, डबल करने की गारंटी देती है सरकार

देश में कोरोना का कहर जारी है। मुमकिन है एक बार फिर से देश के लोगों को आर्थिक संकट का करना पड़े। इसके लिए आपको किसी एक ऐसी निवेश योजना की ओर जाने की जरुरत है जहां आपका रुपया तो सुरक्षित तो रहे ही साथ ही रिटर्न भी ज्यादा मिले। यहां हम आपको ऐसी ही एक योजना के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। किसान विकास पत्र ( Kisan Vikas Patra ) पोस्ट ऑफिस की योजना है और इसमें निवेश करने के बाद केंद्र सरकार आपको आपका रुपया दोगुना करने की गारंटी देती है।

केवीपी पर ब्याज और एलिजिबिलिटी
– केवीपी स्कीम में 6.9 फीसदी ब्याज मिल रहा है।
– इस ब्याज दर से केवीपी में पैसा 124 महीने में आपका निवेश डबल हो जाता है।
– केवीपी को कोई भी ऐसा व्यक्ति खरीद सकता है, जिसकी उम्र 10 साल से ज्यादा हो।
– केवीपी को अकेले या संयुक्त नाम से भी खरीदा जा सकता है।
– अधिकतम 3 संयुक्त नाम से खरीदा जा सकता है।

कम से कम इतना करना होगा निवेश
– केवीपी में अधिकतम जमा की कोई सीमा नहीं है।
– न्यूनतम 1000 रुपए का निवेश करना जरूरी है।
– ज्यादा निवेश करते हैं तो आपको 100 रुपए के गुणांक में निवेश करना होगा।
– केवीपी में 1000 रुपए के बाद 1100 रुपये का निवेश कर सकते है।

कब निकाल सकते हैं रुपया
– जरुरत पडऩे पर आप केवीपी से आप अपना रुपया निकाल सकते हैं।
– वैसे यहां से पैसा ढाई साल से पहले नहीं निकाला जा सकता है।
– 1000 रुपए जमा करने पर ढाई साल पर निकालने पर मिलेगा 1173 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर 3 साल में मिलेगा 1211 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर साढ़े तीन में मिलेगा 1251 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर 4 साल में 1291 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर साढ़े 4 साल में 1333 रुपया।

5 से 9 साल के बीच कितना मिलेगा रुपया
– 1000 रुपए जमा करने पर 5 साल में मिलेगा 1377 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर साढ़े 5 साल में मिलेगा 1421 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर 6 साल में मिलेगा 1467 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर साढ़े 6 साल में मिलेगा 1515 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर 7 साल में मिलेगा 1564 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर साढ़े 7 साल में मिलेगा 1615 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर 8 साल में मिलेगा 1667 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर साढ़े 8 साल में 1722 रुपया।
– 1000 रुपए जमा करने पर 9 साल में मिलेगा 1778 रुपया।


Back to top button