धर्म

इन 2 औरतों पर कभी मत डालना गंदी नजर, वरना आपका हो जाएगा सर्वनाश

मनुष्य की सफलता के पीछे उसके कर्मो का बहुत बड़ा हाथ होता है, मनष्य के कर्म ही उसके जीवन में मिलने वाले फल को निर्धारित करते है | कई बार मनष्य अनजाने में या जानबूझकर कुछ ऐसी गलतिया कर देता है जिसका खामियाजा उसे भुगतना ही पड़ता है | अपनी इन गलतियों के चलते ही जीवन में उसे सफलता नहीं मिल पाती है ना ही उसकी उन्नति होती है और वो समाज में धीरे धीरे पिछड़ता चला जाता है | मनुष्य द्वारा किये जाने वाले ऐसे कामो के के बारे में शास्त्रों में बताया गया है |

हमारे प्राचीन शास्त्रों और पुराणों में यह बताया गया है कि प्राचीन समय में स्त्रीओ से पुरुष किस प्रकार व्यवहार करते थे और उस समय में स्त्रियों की दशा कैसी थी | इन्ही ग्रंथो और पुराणों में दो स्त्रीओ का वर्णन किया गया है, इन स्त्रीओ के बारे में बताया गया है कि जो भी पुरुष इन पर गन्दी नज़र डालता है वो इंसान कभी भी अपने जीवन में सफल नहीं हो पता है, वो इंसान पाप का भागी बन जाता है | आज हम आपको उन दो स्त्रीओ के बारे में बताने जा रहे है जिन पर अगर कोई व्यक्ति गन्दी नज़र डालता है तो जीवनभर कभी सफल नहीं हो पाता है |

परायी स्त्री

 

 

परायी स्त्री पर नज़र डालने वाले इंसान को समाज में कोई भी इज़्ज़तभरी नज़रो से नहीं देखता है, इसीलिए एक पुरुष को कभी भी परायी स्त्री पर बुरी नज़र नहीं डालनी चाहिए | हमारे पुराणों में भी वर्णित एक कथा के अनुसार राक्षस कम्भा और भगवान इन्द्र के युद्ध में भगवान इन्द्र को हारना पड़ा था क्योंकि कम्भा को भगवान शिव से वरदान प्राप्त था | इंद्रा को जीतकर कम्भा ने इंद्र देव का सिंहासन भी हासिल कर लिया, ऐसी स्थिति में इन्द्र देव मदद के लिए भगवान विष्णु के पास गए तब विष्णु जी ने कम्भा को अपने पास बुलाया और जब कम्भा वह आया तो वहां देवी लक्ष्मी भी विराजमान थी |

देवी लक्ष्मी को देखकर कम्भा मोहित हो गया और देवी लक्ष्मी को कैद कर लिया तब भगवान विष्णु ने इन्द्र देव को कम्भा का वध करने का आदेश दिया | भगवान विष्णु का आदेश सुन कम्भा ने विष्णु जी को भगवान शिव से मिले वरदान की बात कही तब भगवान विष्णु ने कहा कि परायी स्त्री पर नज़र डालने वाले व्यक्ति के सभी पुण्य समाप्त हो जाते है ऐसे में किसी भी प्रकार के वरदान का कोई मोल नहीं रह जाता है |

विधवा स्त्री

 

 

जिस प्रकार परायी स्त्री पर नजर डालना पाप का भागी बनाता है उसी प्रकार एक विधवा स्त्री पर नज़र डालना भी मनुष्य को पाप का भागी बनाता है | ऐसा करने वाला इंसान कभी भी जीवन में सफल नहीं हो पाता है, चाणक्य ने भी कहा था की परायी स्त्री पर नज़र डालने वाला पुरुष शीघ्र ही पतन का भागी बनता है | हमारे पुराणों में ऐसी स्त्री पर बुरी नज़र डालने को महापाप बताया गया है और इसे मनुष्य का सबसे बड़ा अवगुण बताया गया है | प्राचीन ग्रंथो में ऐसे कई तथ्य है जिनमे बताया गया है की परायी और विधवा स्त्री पर नज़र डालने वाला पाप का भागी बनता है |

Back to top button