ख़बरमनोरंजन

आलोक नाथ की पत्नी ने विंटा नंदा के खिलाफ किया केस, मानहानि का भी मामला

 

आखिरकार एक्टर आलोक नाथ की पत्नी आशु नाथ ने प्रोड्यूसर विंटा नंदा के खिलाफ मुंबई पुलिस में शिकायत दर्ज करा ही दी. इसके अलावा खुद एक्टर ने अपने वकील के ज़रिये अँधेरी कोर्ट में आरोप लगाने वाली विंटा नंदा के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज कराया है. एक्टर का आरोप है की जानबूझकर उन्हें बदनाम करने के लिए कुछ लोग काम कर रहे हैं. प्रोड्यूसर विंटा नंदा ने आलोक नाथ पर रेप का आरोप लगाया था.

अपनी आपबीती विंटा ने फेसबुक पर एक लंबे-चौड़े पोस्ट के ज़रिये इस पूरे घटना का जिक्र किया था. विंटा ने अपने पोस्ट में आलोक नाथ का नाम लिये बिना लिखा था कि उन्‍होंने मेरे साथ शारीरीक दुर्व्‍यवहार किया जब मैं साल 1994 के मशहूर शो तारा के लिए काम कर रही थी. विंटा नंदा ने इस बात का भी खुलासा किया था कि इस शो की लीड एक्‍ट्रेस के साथ भी उन्‍होंने बदतमीजी की थी.

विंटा नंदा ने फेसबुक पर लिखा,’ उन्‍होंने मेरे साथ शारीरीक दुर्व्‍यवहार किया जब मैं साल 1994 के एक मशहूर शो तारा के लिए काम कर रही थीं. उनकी पत्‍नी मेरी अच्‍छी दोस्‍त थी. हमारा एकदूसरे के घर में आना-जाना भी था.’

विंटा ने लिखा, ‘ एक बार मैं उनके घर पर पार्टी में गईं. देर रात दो बजे मैं वहां से निकल गई क्‍योंकि मुझे ठीक नहीं लग रहा था. मेरे ड्र‍िंक में कुछ मिला दिया गया था. मैं अकेले ही सड़क के किनारे चल पड़ी. कुछ दूर जाने पर एक कार मेरे पास आकर रूकी और उसने मुझे घर तक छोड़ने की बात कही. मैंने उस पर भरोसा किया और गाड़ी में बैठ गई. मैं बेहोश हो गई. मुझे हल्‍का याद है कि मेरे मुंह में शराब उड़ेली जा रही थी. गले दिन दोपहर को जब मैं उठी तो मुझे दर्द हुआ. सिर्फ मेरा रेप नहीं हुआ था मुझे मेरे घर लाकर बर्बाद किया गया था. मैं उठ नहीं पा रही थी.’

अलोक नाथ के वकील अशोक सरोगी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि, पुलिस थाने में शिकायत अलोक नाथ कि पत्नी के द्वारा दिया गया है, जिसे अम्बोली पुलिस ने स्वीकार कर लिया है. उनकी पत्नी ने अपनी शिकायत में कहा है कि प्रोड्यूसर विंटा नंदा ने अगर दावा किया है की उनके साथ उनके पति अलोक नाथ रेप किया है तो उनके पास क्या साक्ष्य हैं और किस आधार पर वो आरोप लगा लगा रहीं हैं. उन्होंने पुलिस से इस पूरे मामले में विंटा के खिलाड़ कार्यवाही कि मांग कि है.

वहीं अलोक नाथ ने भी विंटा नंदा को मानहानि का नोटिस भेजा है. और मुंबई के मटेरोपोलिटन मैजिस्ट्रेट कोर्ट में भी आपराधिक मामला चलने के लिए अर्ज़ी देखी की है.

Back to top button