देश

आनंद महिंद्रा ने अर्नब गोस्वामी को पढ़ाया देशभक्ति का पाठ, लगाई ऐसी लताड़

टीआरपी की होड़ ने मीडिया के एक बड़े वर्ग को उस मकाम पर ला कर खड़ा कर दिया है, जहाँ वह अपनी ज़िम्मेदारी को ही भूल गया है। न्यूज़ एंकर ख़बरें दिखाने के बजाय चीखने चिल्लाने लगे हैं। बहस में तू तू ,मै मै ऐसी होती है कि कई बार मारपीट तक की नौबत आ जाती है। सिर्फ इतना ही मीडिया पर पक्षपात के आरोप भी लगते रहे हैं। कुछ मीडिया हाउस तो केंद्र की बीजेपी सरकार के मुखपत्र बनकर रह गये है।

पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले के बाद पैदा हुए तनाव के चलते भारत में न्यूज़ के टीवी स्टूडियो वार रूम में तब्दील हो गए हैं। दिन भर यहाँ इसी बात की चर्चा हो रही है कि भारत और पाकिस्तान का यु’द्ध होना चाहिए। इसी कड़ी मे जब विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को रिहा किया जा रहा था और अभी वह भारत पहुंचे भी नहीं थे,इन खबरियां चैनलों ने फिर से गैर ज़िम्मेदाराना एंकरिंग की।

इन चैनलों पर दिखाया जा रहा था कि पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दबाव में आकर भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन को रिहा कर भारत वापस भेजने का फैसला लिया है। रिपोर्टरों द्वारा ऐसे शब्दों का इस्तेमाल किया जा रहा था,जब कि हमारे जवान अभी पाकिस्तानी सैनिकों के कैद में ही थे,और उसकी वापसी पर विपरीत प्रभाव भी पड़ सकता था। इस पर देश के मशहूर उघोगपति आनंद महिंद्रा ने रिपब्लिक टीवी के गैरजिम्मेदार और लापरवाही भरी रिपोर्टिंग पर नाराज़गी जताई।

आनंद महिंद्रा ने रिपब्लिक टीवी द्वारा किए गए ट्वीट को लेकर अर्नब गोस्वामी को लताड़ लगाई है। आनंद महिंद्रा ने अपने ट्वीट मे लिखा है कि वह मीडिया को लेकर शायद ही कभी टिप्पणी करते हो, लेकिन अभी सबका मुख्य लक्ष्य यह होना चाहिए कि अपने वीर जवान को सुकुशल देश पहुंचाया जाये ,क्योंकि अभी वायुसेना का जांबाज सुरक्षित भारत नहीं पहुंचा है,अभी जश्न का वक्त नहीं आया है। अर्नब गौस्वामी को संबोधित करते हुए उन्होंने ट्वीट मे लिखा, “अर्नब… प्लीज हमें हर हालत में संयम बरतना चाहिए.”

Back to top button