जिंदगी

आचार्य चाणक्य ने बताया: ये 3 काम बेशर्मी से करें महिलाएं

यूँ तो शास्त्रों में स्त्री और उसके चरित्र को लेकर कई बातें देखने और सुनने को मिलती है. मगर ये जरुरी नहीं कि महिलाओ के बारे में कही गई हर बात सच हो. हालांकि हम यहाँ शास्त्रों को गलत नहीं कह रहे है, केवल नजरिये की बात कर रहे है. जी हां जिस युग में या जिस काल में महिलाओ के बारे में ये बातें लिखी गई थी, तब महिलाओ को समाज में एक अलग ही स्थान दिया जाता था. अगर यूँ कहे कि तब महिलाओ को कुछ करने का ज्यादा अधिकार नहीं दिया जाता था, तो कुछ गलत नहीं होगा. मगर अब समय बदल चुका है. महिलाओ के प्रति लोगो की सोच भी बदल रही है. ऐसे में महिलाओ को लेकर शास्त्रों में जो बातें लिखी गई है, उन्हें पूरी तरह से सही भी नहीं ठहरा सकते.

बरहलाल ये तो शास्त्रों की बात थी. वही अब अगर चाणक्य के नियमो की बात की जाए तो उनके अनुसार स्त्री को बहुत से काम करने का अधिकार मिलना चाहिए. आपको जान कर ताज्जुब होगा कि चाणक्य के अनुसार ऐसे बहुत से काम है, जो स्त्रियों को बिना झिझक के बेशर्म होकर करने चाहिए. यानि ये काम करते समय उन्हें किसी से भी झिझक नहीं रखनी चाहिए. वैसे चाणकय के अनुसार इन कामो को करते समय केवल स्त्री ही नहीं बल्कि पुरुषो को भी झिझक नहीं करनी चाहिए. तो चलिए अब आपको बताते है कि वो कौन से काम है, जिन्हे स्त्रियों को बिंदास होकर करना चाहिए.

१. चाणक्य के अनुसार जो व्यक्ति धन से जुड़े कामो को करने में शर्म करता है, उसे हमेशा धन हानि का सामना करना पड़ता है. जी हां जैसे कि यदि आपने किसी को उधार दिया है और आप उससे पैसे वापिस लेने में शर्म कर रहे है तो आपको शर्म करने की कोई जरूरत नहीं है, क्यूकि वो आपका ही पैसा है.

२. चाणक्य के अनुसार यदि कोई व्यक्ति खाना खाने में शर्म करता है, तो वो हमेशा भूखा ही रह जाता है. जैसे कि इस दुनिया में बहुत से लोग ऐसे है जो अपने रिश्तेदारों या दोस्तों के घर खाना खाने में शर्म करते है. ऐसे में आपको बिना शर्म किये भूख लगने पर खाना खा लेना चाहिए, वरना आप भूखे ही रह जायेंगे.

३. चाणक्य के अनुसार एक अच्छा विद्यार्थी वही होता है, जो बिना झिझक किये अपने गुरु से सभी सवालों के जवाब पूछता है. जी हां यानि जो व्यक्ति शिक्षा ग्रहण करने में शर्म करता है, वो हमेशा अज्ञानी और मूर्ख ही रह जाता है. ऐसे में किसी भी व्यक्ति को अपने गुरु से कोई भी सवाल पूछने में शर्म नहीं करनी चाहिए.

Back to top button