उत्तर प्रदेश

अर्शी बन गईं जरूरतमंदों की सांसें, नाम मिला- ‘ऑक्सीजन वाली बिटिया’

शाहजहांपुर. कोरोना संक्रमण के दौर में कुछ लोग मानवता को धराशाई कर लूट खसोट मचाए हैं। मरीजों को ऑक्सीजन की जरूरत होने पर ऐसे लोग सांसों का सौदा कर रहे हैं। वहीं शाहजहांपुर जिले में मदराखेल क्षेत्र की स्नातक की छात्रा अर्शी लोगों को ऑक्सीजन के रूप में सांसे प्रदान कर रही है, जिसे लोग ऑक्सीजन वाली बिटिया (Oxygen Girl) के नाम से पुकार रहे हैं। अर्शी अपनी स्कूटी से ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर जरूरतमंद के पास स्वयं जाकर उपलब्ध करा रही है। विपदाकाल में उसकी इस पहल से चारो तरफ जमकर सराहना की जा रही है।

जनपद शाहजहांपुर के मदराखेल क्षेत्र निवासी अर्शी आज लोगों के लिए रहनुमा बनी हुई है। अर्शी के मुताबिक उसके पिता मशहूर की कोरोना की इस दूसरी लहर में तबीयत बिगड़ गई। ऑक्सीजन समस्या होने पर उसने कई लोगों से मदद मांगी। जान बचाने की गुहार लगाई, लेकिन निराशा के सिवाय कुछ नही मिला। जिसके बाद उसने चचेरे भाई और उनके दोस्तों की मदद से दो सिलेंडर की व्यवस्था कर पिता की जान तो बचा ली, लेकिन उसने तभी प्रण किया कि जिस तरह उसके पापा को परेशानी उठानी पड़ी।

इस तरह किसी और को परेशान नही होने देगी। अब अर्शी उन्ही दो सिलेंडर में खुद के पैसे से गैस रिफिल करा जरूरतमंद के पास अपनी स्कूटी से पहुंचाती है। अभी तक उसने उधमसिंह नगर, हरदोई, शाहाबाद से 18 बार ऑक्सीजन सिलेंडर भरवाए हैं।

अर्शी ने बताया कि इस कठिन दौर में हर दूसरा तीसरा व्यक्ति ऑक्सीजन गैस के लिए परेशान हुआ है अगर किसी ने मदद की है तो उससे प्रेरित होकर दूसरों को भी लोगों की मदद करनी चाहिए।

Back to top button