उत्तर प्रदेश

अब सुलतानपुर के अस्पताल में कोरोना की इंट्री, 5 डॉक्टरों समेत फार्मासिस्ट और लैब टेक्नीशियन पॉजीटिव 

उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर में कोरोना ने जिला अस्पताल में भी इंट्री कर दी है। कई डाक्टर और कर्मचारी के कोविड पाजिटिव होने के चलते अस्पताल की ओपीडी अब 20 अप्रैल तक के लिए बंद कर दी गई है। कोरोना काल और वायरल फीवर के बढ़ते प्रकोप के बीच इस तरह अस्पताल की ओपीडी बंद होने से हड़कंप मच गया है।

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक जिला चिकित्सालय डाॅ. सुरेश चन्द्र कौशल ने बताया कि कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण एवं जिला चिकित्सालय के कई अधिकारी और कर्मचारी के कोविड-19 से संक्रमित हो जाने के कारण 17 अप्रैल को जिला चिकित्सालय की समस्त ओपीडी सेवाएं सेनेटाइज की जाएगी इसलिए ओपीडी बंद रहेगी।

डीएम ने दिया ओपीडी बंद रखने का आदेश

उन्होंने बताया कि 18 अप्रैल को रविवार एवं 19 अप्रैल को सार्वजनिक अवकाश होने के कारण जिला चिकित्सालय की अगली ओपीडी 20 अप्रैल को खुलेगी। आकस्मिक सेवाएं पूर्व की भांति क्रियाशील रहेंगी। जिला अस्पताल के चिकित्सक डॉक्टर एस के पांडेय, डॉक्टर पंकज पांडेय, डॉक्टर गोपाल रजक, डॉक्टर शारदा रंजन, नेत्र सर्जन डॉक्टर सुनील पटेल के साथ साथ कई फार्मासिस्ट और लैब टेक्नीशियन कोरोना पॉजीटिव हुए हैं। इसी के बाद डीएम के आदेश पर ये फैसला लिया गया।

सीएमएस ने बताया कि ओपीडी में प्रतिदिन मात्र 250 गंभीर मरीजों को रैपिड एन्टीजेन टेस्ट एवं कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन करते हुए देखा जायेगा। एक मरीज के साथ मात्र एक परिचर ही रहेंगे। उन्होंने सभी नागरिकों से निवेदन किया है कि आवश्यक न हो, तो घर से बाहर न निकले। आवश्यकता पड़ने पर चिकित्सीय सलाह हमारे चिकित्सालय के फिजीशियन डाॅ. अनिल कुमार, मो. नं0- 9415183828, फिजीशियन डाॅ डीपी सिंह, मो नं0-8279657505 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

Back to top button