उत्तर प्रदेश

अपर्णा ने बोली ऐसी बात कि सहम जायेंगे शिवपाल, टेंशन दी अखिलेश को भी !!

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी बहन प्रियंका गांधी को सौंप कर इस वक्त सबसे बड़ा फैसला ले लिया है। प्रियंका गांधी राहुल गांधी के इस फैसले पर खरी उतरने की पूरी कोशिश कर रही हैं। लगातार ऐसी खबरें सामने आ रही हैं कि प्रियंका गांधी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ-साथ अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ में मुलाकात कर रही हैं।

हाल ही में यह खबर भी आई है कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेसी महान दल के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ने जा रही हैं। वहीं समाजवादी पार्टी की बहू अपर्णा यादव को लेकर भी अब एक बड़ी खबर सामने आ रही है। माना जा रहा है कि अपर्णा यादव ने लोकसभा चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर की है।इसी कड़ी में उन्होंने प्रियंका गांधी की जमकर तारीफ भी की है।

अपर्णा यादव ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है कि साल 2017 में हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अगर समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन का चुनाव प्रचार सही तरह से किया होता और मुख्यमंत्री के तौर पर शीला दीक्षित को उम्मीदवार ना बनाया होता तो आज प्रदेश में उन्हीं की सरकार होती।

इसके साथ साथ अपर्णा यादव ने सपा-बसपा गठबंधन पर बड़ा बयान देते हुए कहा कि यह दोनों पार्टियां इस वक्त मुश्किल दौर से गुजर रही हैं। अखिलेश भैया और मायावती ने भले ही कार्यकर्ताओं को साथ रहकर काम करने के आदेश दिए हैं। लेकिन उनमें कहीं ना कहीं अनबन चल रही है। इस दौरान अपर्णा यादव समाजवादी पार्टी का समर्थन करती हुई नजर आई। माना जा रहा है कि मुलायम सिंह चाहते हैं कि अपर्णा यादव इस लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की किसी भी परंपरागत सीट पर चुनाव लड़े। लेकिन अखिलेश यादव मुलायम सिंह यादव की मांग स्वीकार नहीं कर रहे हैं।

वह नहीं चाहते कि अपर्णा यादव लोकसभा चुनाव समाजवादी पार्टी की टिकट पर लड़ें। क्योंकि अपर्णा यादव हमेशा भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में बयान बाजी करती आई हैं और अखिलेश यादव को यह लगता है कि अगर उन्होंने अपर्णा यादव को सपा की सीट पर चुनाव लड़ गया तो उन्हें हार का सामना करना पड़ेगा।

Back to top button