खेल

अपने बर्थडे पर वनडे शतक लगाने वाले 4 बल्लेबाज, लिस्ट में भारत के 2 नाम

जन्मदिन किसी भी शख्स के लिए काफी अहम दिन होता है. इसे यादगार बनाने के लिए कई पार्टी करने का चलन काफी पुराना है. हालांकि एक क्रिकेटर के लिए इससे अच्छा क्या हो सकता हैं कि वे अपने जन्मदिन पर एक शतक जड़ दे. आज इस लेख में हम अपने जन्मदिन के खास मौके पर वनडे शतक लगाने वाले 4 खिलाडियों के बारे में जानेगे.

1) विनोद कांबली- 100* रन (1993)

Vinod Kambli: What Went Wrong With Him? | Wisden Cricket

भारत के पूर्व बल्लेबाज विनोद कांबली जन्मदिन के खास मौके पर ODI शतक लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बने थे. कांबली ने साल 1993 में अपने 21 वर्ष का जश्न शतक लगाकर मनाया था. पूर्व खब्बू बल्लेबाज ने जयपुर के मैदान पर इंग्लैंड के विरुद्ध 149 गेंदों पर 9 चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 100 रनों की पारी खेली थी.

2) सचिन तेंदुलकर- 134 रन (1998)

Sachin Tendulkar birthday special floors Australia in 1998 Coca-Cola Cup final - Sports News

सचिन तेंदुलकर ने अपने 25वें पर ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध शारजाह के मैदान पर ऐतिहासिक शतक लगाया था. मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले खेलते हुए स्टीव वॉ और डैरेन लेहमन के 70-70 रनों की मदद से 272/9 का स्कोर बनाया था.

जवाब में सचिन ने सिर्फ 131 गेंदों पर 12 चौके और 3 छक्कों की मदद से 134 रनों की तूफानी पारी खेलकर अपनी टीम को मैच 6 विकेट से जिताया था.

3) सनथ जयसूर्या- 130 रन (2008)

Birthday Special: 5 Times Sanath Jayasuriya Pummeled Indiaश्रीलंका के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर सनथ जयसूर्या भी इस सूची में शामिल हैं. इस दिग्गज ने अपने 39वें जन्मदिन पर एक तूफानी शतक जड़ा था. एशिया के मुकाबले में जयसूर्या ने बांग्लादेश के खिलाफ सिर्फ 88 गेंदों पर 16 चौके और 6 गगनचुंबी छक्कों की मदद से 130 रनों की पारी खेली थी.

इस पारी की बदौलत श्रीलंका ने 332/8 का स्कोर बनाया था जबकि जवाब में बांग्लादेश की टीम सिर्फ 174 रनों पर ढेर हो गयी थी.

1) रॉस टेलर- 131* रन (2011)

Is Ross Taylor the Most Underrated ODI Batsman ? - Last Word on Cricket

न्यूज़ीलैण्ड के दिग्गज बल्लेबाज रॉस टेलर इस सूची में अकेले सक्रिय बल्लेबाज हैं. दाए हाथ के बल्लेबाज ने आईसीसी वर्ल्ड कप 2011 में पाकिस्तान के विरुद्ध अपने 27वें जन्मदिन पर तूफानी शतक लगाया था.

मैच में टेलर ने 124 गेंदों पर 8 चौके और 7 छक्को की मदद से नाबाद 131 रनों की तूफानी पारी खेली थी. जिसकी मदद से उनकी टीम ने 302/7 का स्कोर बनाया था. जबकि पाकिस्तान की टीम 192 रनों पर ऑलआउट हो गयी थी.

Back to top button