उत्तर प्रदेश

अपनी छवि की जगह देश की चिंता करें पीएम : प्रमोद तिवारी

– टूल किट में एफआईआर दर्ज कर हाईकोर्ट की निगरानी में हो जांच

लालगंज, प्रतापगढ़। केन्द्रीय कांग्रेस वर्किग कमेटी के सदस्य एवं यूपी आउटरीच एण्ड कोआर्डिनेशन कमेटी के प्रभारी प्रमोद तिवारी ने टूल किट मामले मे केंद्र की मोदी सरकार पर घबराहट में होने की बात कही है। श्री तिवारी ने कहा है कि दिल्ली में भाजपा के सत्तारूढ़ होने के बावजूद कांग्रेस की ओर से टूल किट की एफआईआर सच्चाई को दबाने के लिए जानबूझकर दर्ज नही की जा रही है।

उन्होने आरोप लगाया है कि पूरे मामले के उजागर होने के बाद भाजपा को भय है कि उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं एक मंत्री तथा कुछ बडबोले नेता कानून की जद मे आ जाएंगे। श्री तिवारी ने केंद्र सरकार से कहा है कि वह कांग्रेस की तरफ से टूल किट की एफआईआर दर्ज कराकर इसकी हाईकोर्ट की निगरानी में निष्पक्ष जांच कराये। उन्होनें कहा कि टूल किट को लेकर भाजपा इसलिए सच सामने नही उजागर होने देना चाहती कि आपदा काल मे भी उसे पीएम मोदी की छवि की चिंता है न कि कोरोना से जूझ रहे हिन्दुस्तानियों की जान बचाने की चिंता है। वहीं प्रमोद तिवारी ने कोरोनाकाल में सरकार के द्वारा पार्थिव शरीरों के अंतिम संस्कार मे भी प्रशासनिक तंत्र द्वारा अमानवीय रवैये की भी तल्ख आलोचना की है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री अपनी छवि की जगह देश की चिंता करें तो बेहतर होगा। मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल के हवाले से बुधवार को यहां जारी बयान मे कहा कि देश के लोग कोरोना महामारी से बिलख रहे है, इसके बावजूद मोदी सरकार सेंट्रन विस्टा रेडवेलपमेंट प्रोजेक्ट पर बीस हजार करोड़ का खर्च नहीं रोक रही है। जबकि निजी क्षेत्र में वैक्सीन के लिए नौ सौ पचपन रूपये की खुली वसूली भी जारी है।

Back to top button