जरा हट के

जलती चिता पर लेट कर बोला लड़का- ‘पापों का प्रायश्चित करने दो’

आज के समय में काम काज और जिम्मेदारियों के प्रेशर के चलते लगभग हर दूसरा व्यक्ति तनाव से गुजर रहा है. आए दिन ख़बरों में कोई ना कोई अजीबो गरीब घटना या हादसा का ज़िक्र देखने को मिलता है. आज के लोग अपने आप में इतना उलझ चुके हैं कि उनकी मानसिकता धीरे धीरे खोती चली जा रही है. एक सर्वे के अनुसार पिछले पांच सालों में भारत देश में सुसाइड केस का दौर पहले से कईं गुना बढ़ चुका है. पढ़ी लिखी युवा पीढ़ी भी अपनी परेशानियों का समाधान ढूँढ पाने में असमर्थ है. ऐसे में अपनी जिंदगी ख़त्म करना ही हर व्यक्ति को अपनी हर समस्या का एकमात्र समाधान मिलता है. जिसके कारण भारत में मृत्यु दर भी काफी बढ़ चुकी है. अजीबो गरीब मानसिकता वाले इस देश में हर प्रकार के लोग रहते हैं. हाल ही में हमारे सामने एक ऐसा मामला आया है, जिसको पढ़ कर आपके भी रोगंटे खड़े हो जाएंगे.

दरअसल, यह पूरी घटना गया, बिहार की है. जहाँ एक युवक घर से दोस्त से मिलने के बहाने निकला और श्मशान घाट पहुँच गया. गौरतलब है कि यहाँ ना तो उसका कोई अपना मरा था ना कोई पराया. इसके बावजूद भी वह काफी देर तक बैठा एक जल रही लाश को देखता रहा. काफी देर सोचने के बाद वह उस चिता पर जा कर लेट गया. जिसको देख वहां मौजूद सभी लोग काफी डर गए और श्मशान घाट में चारों ओर अफरा तफ़री मच गई. जब लोगों ने उसको बचाने की कोशिश कि तो वह बार बार एक ही चीज़ दोहरा रहा था कि, “मुझे मत रोको, मैं अपने पापों का प्रायश्चित करना चाहता हूँ मुझे मरने दो”.

लंबी कोशिशों के बाद लोगों ने उस युवक को बचा लिया लेकिन तब तक वह गभीर रूप से जल चुका था. जिसके कारण उसको तुरंत नजदीकी अस्पताल में दाखिल करवा दिया गया. आपको हम बता दें कि यह पूरी घटना गया के विष्णुपद श्मशान घाट की है.

शशां घाट में मौजूद लोगों के अनुसार वह युवक वहां काफी देर से खड़ा एक लाश को जलता देख रहा था. ज्सिके बाद अचानक वह लकड़ी लाकर एक चिता तैयार करने लगा और उसमे आग लगा दी. इसके बाद उस युवक ने खुद पर पेट्रोल छिड़का और जाकर चिता पर लेट गया. युवक की इन हरकतों को देख कर वह मौजूद लोगों के पैरों तले से ज़मीन खिसक गई. कोई भी उस युवक की मानसिकता को नहीं समझ पा रहा था परन्तु जैसे तैसे उन्होंने मिलकर उसकी जान बचाई. जिसके बाद उसको तुरंत एंबुलेंस से मगध मेडिकल कॉलेज इलाज के लिए भेजा गया. डॉक्टर्स के अनुसार युवक की हालत अभी भी गंभीर है और उसका आधे से ज्यादा हिस्सा जल चुका है.

आत्महत्या का प्रयास करने वाले इस युवक की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है. श्मशान घाट में मौजूद लोगो के अनुसार घटना के समय वह युवक नशे में चूर था. वहीँ कुछ लोगों का कहना है कि वह युवक एक विक्षिप्त  की तरह दिखाई दे रहा था.

Back to top button