चावल के चार दाने बना सकते हैं आपको कंगाल से धनवान, आज ही चुप-चाप करे ये टोटका

0
175

कभी कोई गरीब नहीं बनना चाहेगा. यहाँ तक कि जो अमीर हैं वो भी हमेशा और अधिक पैसा कमाने की सोचते रहते हैं. आप ने ये भी नोटिस किया होगा कि कई बार कोई गरीब अचानक से अमीर बन जाता हैं तो कोई अमीर गरीबी की गिरफ्त में आ जाता हैं. ये सारा खेल आपके घर की पॉजिटिव और नेगेटिव एनर्जी का होता हैं. जिस घर में अधिक नेगेटिविटी होती हैं वहां पैसा कभी भी ज्यादा दिनों तक नहीं टिकता हैं. ऐसे घरो में कुछ ना कुछ नुकसान होता रहता हैं. इस घर के सदस्यों की किस्मत भी काफी खराब होने लगती हैं और ये जिस भी काम में हाथ डालते हैं वो बिगड़ जाता हैं.

हिन्दू धर्म में ऐसी कोई पूजा नहीं होती है जिसमें अक्षत (चावल) का उपयोग न होता हो। हर पूजा में अक्षत (rice) जरूरी बताया गया है। हर शुभ कार्य में और हर पूजा-विधान में चावल का इस्‍तेमाल किया जाता है। पूजा के कलश पर, पूजा चौकी पर, माथे पर तिलक के साथ भी चावल लगाया जाता है। मतलब चावल का उपयोग धर्म में शुभ और जरूरी माना गया है, इसके साथ ही इसका संबंध ज्योतिष से भी है।
प्रसन्न होते हैं देवी-देवता
भोपाल के पं. जगदीश शर्मा बताते हैं कि संस्कृत में चावल को अक्षत भी कहा जाता है। अक्षत का मतलब अखंडित है। मतलब जो टूटा न हो। खंडित न हो। शास्त्रों में बताया गया है कि शुभ कार्य में किसी भी खंडित वस्तुओं का उपयोग नहीं किया जाता है। जबकि भगवान को अक्षत समर्पित करके ही समर्पित किया जाता है। शास्‍त्रों में बताया गया है कि अक्षत के मात्र चार दाने चढ़ाने से भगवान प्रसन्न होते हैं। चावल चढ़ाने वाले भक्त पर देवी-देवताओं की कृपा शीघ्र बरसती है।
शिवलिंग पर जरूर चढ़ाएं अक्षत
यदि हर सोमवार को आप शिवलिंग की विधिवत पूजा करते हैं,पूजा में बैठने से पहले एक किलो चावल शिवलिंग के पास रख लें। जब पूजा संपन्न हो जाए तब एक मुठ्ठी चावल लेकर दोनों हाथों से शिवलिंग पर चढ़ा दें। इसके बाद बचे हुए चावल को जरूरतमंदों में वितरित कर दें। यदि यही उपाय हर सोमवार को लगातार कुछ माह तक करते हैं तो आपको जरूर इसके सकारात्मक परिणाम नजर आएंगे।
यह भी हैं चावल के फायदे
चावल के यह उपाय भी आपको लाभ पहुंचा सकते हैं। किसी भी पूर्णिमा या शुभ मुहुर्त में स्नान करके लाल रंग का रेशमी कपड़ा लें। चावल के 21 दाने, जो बगैर टूटे हुए हों, उसे हल्दी में रंग लें। चावल (Rice ) के इन 21 दानों को कपड़े में बांधकर मां लक्ष्‍मी के सामने रखकर श्रद्धा-भक्ति के साथ पूजा कर लें। पूजा के बाद इसे अपनी तिजोरी में रख दें। ज्योतिषियों के मुताबिक चावल के मात्र चार दानों को अपनी पॉकेट में या बटुए में रखे से लाभ होता है। तो आज भी यह उपाय करके देखिए, आपकी भी बदल सकती है किस्मत।