इस गैजेट की मदद से स्पीच देते हैं ट्रंप, कीमत जानकर रह जाएंगे दंग

0
174

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप  भारत के दो दिवसीय दौरे पर हैं। ऐसे में उन्हें लेकर काफी हलचल मची हुई है। ट्रंप के साथ उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप और उनकी बेटी इवांका ट्रंप और दामाद भी आए हैं। दोपहर करीब 12 बजे वो गुजरात के अहमदाबाद पहुंचे जहां पीएम मोदी ने एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया। दोनों नेताओं ने एयरपोर्ट से मोटेरा स्टेडियम तक 22 किमी. का रोड शो किया जिसमें 28 राज्यों की संस्कृति दर्शाई गई।

इसके बाद मोटेरा स्टेडियम में राष्ट्रपति ट्रंप ने संबोधन दिया। लेकिन क्या आपको पता है कि ट्रंप अपने भाषण में किस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करते हैं। सुनने में जरा अजीब लगेगा कि भाषण के लिए भी क्या टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है, तो चलिए आज हम इसी टेक्नोलॉजी के बारे में विस्तार से आपको बताते हैं।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री मोदी के भाषण में ज्यादातर जिस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है उसका नाम Teleprompter है। टेलीप्रॉम्‍प्‍टर के लेटेस्ट वर्जन को पकड़ पाना मुश्किल है, क्योंकि एक साइड से ये पारदर्शी होता है और सामने बैठे लोगों को ये दिखाई नहीं देता। टेलीप्रॉम्‍प्‍टर केवल पीछे खड़े व्यक्ति को ही दिखाई देता है।

स्पीकर जैसे-जैसे टेलीप्रॉम्‍प्‍टर पर लिखे शब्द पढ़ते जाएगा, वैसे-वैसे वो स्क्रॉल डाउन होता जाता है। टेलीप्रॉम्‍प्‍टर ऑपरेटर इसकी स्क्रॉलिंग की स्पीड को नियंत्रित करता रहता है। वो शब्दों को स्पीकर की स्पीड के मुताबिक नीचे करता है। अगर दाम की बात करें तो इसकी शुरूआती कीमत 3 लाख रुपये के करीब है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले टेलीप्रॉम्‍प्‍टर का इस्तेमाल इसरो में पीएसएलवी की लॉन्चिंग के दौरान किया था।