उत्तर प्रदेशख़बर

योगीराज में आखिर ऐसा क्या हो रहा, जो उपेक्षित महसूस कर रहे ‘यादव’ पुलिसवाले ?

उत्तर प्रदेश की पूर्व की सपा सरकार के दौरान जिन यादव पुलिसकर्मियों की तूती बोलती थी वे वर्तमान की सरकार में खुद को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं. गौरतलब है कि पिछली सरकार में इन पुलिसकर्मियों को खुद के यादव होने का घमंड सिर चढ़कर बोलता था वही सत्ता परिवर्तन होने के बाद से खिसियाए से घूम रहे हैं. आलम ये है कि ये यादव पुलिसकर्मी अब सरकार के खिलाफ ही बातें करते नजर आते हैं. इसका उदाहरण है पिछले कुछ दिनों से लगातार यादव पुलिसकर्मियों की वायरल हो रही कुछ वीडियो.

उत्तर प्रदेश में पिछली सरकार में यादव सरनेम वाले पुलिसकर्मियों का बोलबाला था. यादव होने के कारण ये पुलिसवाले हनक दिखाते रहते थे. कई तो जाति की आड़ में अपने सीनियर व आम जनता तक को हड़का देते थे. लेकिन सत्ता बदलते ही सब कुछ बदल गया. वर्तमान सरकार में यादव सरनेम वाले पुलिसकर्मी खुद को उपेक्षित महसूस कर रहे है. यही वजह है कि यादव पुलिसकर्मी सोशल मीडिया पर पिछले कई दिनों से वीडियो वायरल कर अपनी भड़ास निकाल रहे हैं.

बता दें कि पिछले दिनों एटा में एक सिपाही द्वारा सरकार को बर्खास्त करने की मांग की वीडियो वायरल हुई थी तो कुछ दिनों पहले आईपीएस को भगवान और डीजीपी को त्राहिमाम करने वाला यादव सिपाही का वीडियो भी वायरल हुआ था.  चुनाव के समय में भी बागपत में तैनात एक यादव इंस्पेक्टर ने प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ व्हाट्सएप पर खूब प्रचार किया था.

दबी जुबान में कहा जाए तो कुछ यादव अधिकारी से लेकर कर्मचारियों ये मानते हैं कि मुख्यमंत्री को इन सबसे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन प्रदेश में तैनात कुछ अधिकारी टारगेट जरूर करते हैं

 

Back to top button