जरा हट के

लड़कियों की जींस में भी होती है चेन, क्या आपको पता है इसके पीछे का कारण ?

लड़का हो या लड़की, दोनों को जींस पहनना अच्छा लगता है. हम जींस की बात इसलिए कर रहे हैं क्योंकि आज के इस पोस्ट में हम आपसे जींस से जुड़ा एक बहुत ही मजेदार सवाल पूछने जा रहे हैं. यह सवाल आपके दिमाग में कभी न कभी आया तो जरूर होगा लेकिन हमें यकीन है कि इसका जवाब आप नहीं ढूंढ पाए होंगे. लड़कों की जींस में चेन/ज़िप होना स्वाभाविक है लेकिन क्या आप बता सकते हैं कि लड़कियों की जींस में चेन क्यों होती है? हमें यकीन है कि इसका जवाब आपके पास नहीं होगा. सर खुजाने की जरूरत नहीं है, चलिए इसका जवाब हम आपको दे देते हैं.

क्यों होती है जींस में चेन

काफी लोग ये सोचते हैं कि जींस में चेन यूरिन की वजह से दी जाती है, जो कि बिलकुल गलत है. जींस में ज़िप/चेन होने के पीछे यूरिन का कोई लेना-देना नहीं है. आपको मालूम नहीं होगा तो चलिए हम आपको बता दें कि लड़कियों के जींस में चेन इसलिए दी जाती है ताकि वह उसे आराम से पहन और उतार सकें. दरअसल, जो ओरिजिनल डेनिम जींस होती है वह कम स्ट्रेचेबल होती है और लड़कों की तुलना में लड़कियों की कमर ज्यादा बड़ी होती है.

इसलिए जींस में चेन दी जाती ही ताकि उसे पहनने और उतारने में ज्यादा कठिनाई न हो.

क्या यूज़ है जींस में छोटी जेब का

अब एक और अहम सवाल आता है कि जींस में छोटी पॉकेट जेब क्यों दी जाती है. इसके पीछे भी एक कारण है. बता दें कि इस छोटी जेब वाले जींस के कांसेप्ट की शुरुआत लिवाइस ने की थी. जींस में छोटी जेब को वॉच पॉकेट के नाम से जाना जाता था. यह पॉकेट खासतौर पर काऊ बॉयज के लिए तैयार किया गया था ताकि वह इसमें अपनी घड़ी रख सकें. 18वीं सदी में काऊ बॉयज चेन वाली घड़ियां इस्तेमाल किया करते थे इसलिए जींस में छोटी जेब बनायी गयी ताकि वह उन घड़ियों को इसमें रख सकें. उनकी घड़ियां इस छोटी जेब में आसानी से फिट हो जाती थीं और उनके गिरने का या गायब होने का डर भी नहीं रहता था. यह उनकी घड़ियों को पॉकेट में रखी दूसरी चीजों से सुरक्षित रखता था. अब तो आप समझ गए होंगे कि जींस में चेन और छोटी जेब किस वजह से लगायी जाती हैं.

Back to top button