खेतों में जब अचानक बहने लगा तेल, लोगों ने मारा मौके पर चौका

0
35

बेगूसराय । इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के बरौनी-कानपुर पाइप लाइन में सोमवार की रात लीकेज हो जाने से बड़े पैमाने पर पेट्रोलियम पदार्थों की क्षति हुई है। वहीं खेतों में बहते तेल को को भरने के लिये ग्रामीणों में होड़ मची रही।

पटना जिले के अथमलगोला थाना क्षेत्र स्थित हसन चक गांव के समीप की है। मंगलवार की सुबह में खेत की ओर गए ग्रामीणों ने बड़े पैमाने पर तेल बहते हुए देखा। जिसके बाद ग्रामीणों में तेल लूटने की होड़ मच गई। मौके पर हजारों ग्रामीण जुट गए और तेल भरने में जुट गये। घटना की सूचना मिलते ही पहुंची पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद घेराबंदी कर लोगों को वहां से हटाया।

इधर, घटना की सूचना मिलते ही बरौनी रिफाइनरी के तकनीकी विभाग की टीम पहुंची और लीकेज को बंद कर किया गया। बरौनी रिफाइनरी पाइपलाइन प्रभाग के वरिष्ठ मानव संसाधन प्रबंधक गोविंदजी निगम ने बताया कि सुबह में अथमलगोला थाना क्षेत्र में तेल रिसाव की जानकारी मिली। जिसके बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए लीकेज को बंद कर दिया गया है। जांच पड़ताल की जा रही है उसके बाद ही पता चल सकेगा कि कितने पेट्रोलियम पदार्थ की बर्बादी हुई है। उन्होंने बताया कि यह भी आशंका है कि असामाजिक तत्वों ने पेट्रोलियम पदार्थ चोरी करने के उद्देश्य पाइप लाइन में छेद कर दिया है। फिलहाल उनकी पूरी टीम मामले की जांच-पड़ताल में जुटी हुई है।

उल्लेखनीय है कि कि बरौनी-कानपुर और बरौनी-असम पाइपलाइन पर तेल चोरों की बराबर नजर गड़ी रहती है। सुनसान जगहों पर रात केे अंधेरे का फायदा उठाकर तेल चोर पाइप लाइन में लीकेज कर तेल की चोरी कर लेतेे हैं।