बिहारराजनीति

रैली में ऐसी गलती कर दिए कन्‍हैया, राष्‍ट्रगान करना पड़ा दोबारा !

पटना. जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने गुरुवार को पटना के गांधी मैदान में आयोजित संविधान बचाओ, नागरिकता बचाओ रैली को संबोधित किया। इस दौरान राष्ट्रगान गाते समय कन्हैया से गलती हुई, जिसके चलते दो बार राष्ट्रगान हुआ। कन्हैया ने सीएए को काला कानून बताते हुए कहा ‘मैं इसके खिलाफ लड़ता रहूंगा’।

कन्हैया ने कहा कि सीएए, एनआरसी व एनपीआर के खिलाफ ग्राम पंचायत में प्रस्ताव पारित कराने के लिए मुखिया व जनप्रतिनिधियों को मजबूर कीजिए। शहर में वार्ड पार्षद और अन्य जन प्रतिनिधियों से कहिए आगे वोट लेना है, तो वार्ड व पंचायत में प्रस्ताव पारित कर डीएम को कागज दें। ऐसे काला कानून को हटाने और युवाओं को रोजगार, भ्रष्टाचार मिटाने के लिए हम लड़ते रहेंगे। सरकार एनपीआर नहीं कराने का गजट प्रकाशित कराए। हम संकल्प लें कि धर्म के नाम पर नहीं बटेंगे।

कन्हैया ने कहा कि सीएए नागरिकता देने के नाम पर नागरिकता छिनने की साजिश है। पीएम नरेंद्र मोदी व गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा कि खुद को दादा समझने वाले शाहीनबाग की दादियों से डर गए। गांधी पर ये लोग फूल चढ़ाते हैं और गोडसे का नारा लगाते। चालाकी से एलआईसी बेचा और अब बैंक बेचने की तैयारी है। किसानों का कर्जा एनरपीए और कॉरपोरेट घरानों का 1.76 लाख करोड़ कर्ज एनपीए नहीं है।

कन्हैया ने राजद का नाम लिए बिना निशाना साधा और कहा कि चुनावी गुना गणित से राजनीतिक दल बाहर निकलें। न पार्टी, न नेता और बिना किसी झंडा के लोगों के मूल मुद्दा का आंदोलन जारी रहेगा। रैली में राजद छोड़ सभी विपक्षी पार्टियों के नेता शामिल हुए।

Back to top button