देश

ऐसा क्या कर दिया इस आदिवासी लड़की ने, जो बधाई दिए खुद राहुल गांधी

Congress president Rahul Gandhi congratulates Wayanad adivasi girl on getting selected in civil service exam

नई दिल्ली । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को केरल की पहली आदिवासी युवती श्रीधन्या सुरेश को संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएसएसी) की सिविल सेवा परीक्षा-2018 में चयनित होने पर बधाई दी है।

श्रीधन्या केरल के वायनाड से आती हैं, जो इस बार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का निर्वाचन क्षेत्र भी है। राहुल इस बार उत्तर प्रदेश की अमेठी सीट के अलावा वायनाड से भी चुनाव लड़ रहे हैं। 22 वर्षीय श्रीधन्या ने सिविल सेवा परीक्षा में 410वीं रैंक हासिल की है। वह सुरेश और कमला की पुत्री हैं, जो कुरिचिया जनजाति से हैं।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर उन्हें बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए कहा, ”वायनाड की सुश्री श्रीधन्या सुरेश, केरल की पहली आदिवासी लड़की हैं, जो सिविल सेवा में चुनी गई हैं। श्रीधन्या की कड़ी मेहनत और समर्पण ने उनके सपने को सच करने में मदद की है। मैं श्रीधन्या और उनके परिवार को बधाई देता हूं और उनके चुने हुए करियर में उनकी शानदार सफलता की कामना करता हूं।”

केरल के वायनाड जिले की रहने वाली श्रीधन्या (22) ने सिविल सेवा परीक्षा 2018 में 410वीं रैंक हासिल की है. इस बार के रिजल्ट में कुल 759 कैंडिडेट को यूपीएससी ने आईएएस, आईपीएस, आईआरएस और अन्य ग्रुप ए और बी की सेवा के लिए चयनित किया है.

सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2018 तीन जून, 2018 को हुई थी. इस परीक्षा में 10,65,552 कैंडिडेट ने आवेदन किया था जिनमें से 4,93,972 लाख लोगों ने परीक्षा दी.

सितंबर-अक्टूबर 2018 में हुई लिखित (मुख्य) परीक्षा में भाग लेने के लिए कुल 10,468 अभ्यर्थी उत्तीर्ण हुए. फरवरी-मार्च 2019 में हुए इंटरव्यू के लिए कुल 1,994 कैंडिडेट ने सफलता प्राप्त की. सिविल सेवा में चयनित 25 कैंडिडेट में 15 पुरुष और 10 महिलाएं हैं.

Back to top button