खेल

VIDEO : हार से गुस्से में उबले विराट, गेंदबाजों की ऐसे लगा दी क्लास 

virat kohli

बेंगलुरु,. कैरेबियाई तूफ़ान आंद्रे रसेल की मात्र 13 गेंदों पर सात आसमानी छक्कों से सजी नाबाद 48 रन की तूफानी पारी की बदौलत कोलकाता नाईट राइडर्स ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को शुक्रवार को आईपीएल-12 मुकाबले में पांच विकेट से पीट दिया।
बेंगलुरु ने कप्तान विराट कोहली (84) और स्टार बल्लेबाज एबी डिविलियर्स (63) के शानदार अर्धशतक से 20 ओवर में तीन विकेट पर 205 रन का मजबूत स्कोर बनाया लेकिन रसेल के तूफ़ान के आगे यह स्कोर छोटा साबित हो गया और कोलकाता ने 19.1 ओवर में पांच विकेट 206 रन बनाकर जीत हासिल कर ली।

विराट कोहली ने शुक्रवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की आईपीएल-12 में लगातार पांचवीं हार के बाद गेंदबाजों पर जमकर भड़ास निकाली। कोलकाता नाइटराइडर्स को अंतिम चार ओवर में 66 रन दरकार थी और आंद्रे रसेल ने तूफानी पारी खेलकर 5 गेंद शेष रहते टीम को पांच विकेट की जीत दिलाई। आरसीबी ने पहले बल्‍लेबाजी की और कप्‍तान विराट कोहली (84) व एबी डिविलियर्स (63) की दमदार पारियों की बदौलत निर्धारित 20 ओवर में तीन विकेट खोकर 205 रन बनाए। जवाब में केकेआर ने 19.1 ओवर में पांच विकेट खोकर लक्ष्‍य हासिल कर लिया।

कोहली ने हार का ठिकरा अपने गेंदबाजों पर फोड़ा है। मैच के बाद कप्‍तान कोहली ने कहा, ‘इसमें कोई संदेह ही नहीं। जिस तरह हमने अंतिम चार ओवर में गेंदबाजी की, वो स्‍वीकार्य नहीं है। हमें चतुर बनने की जरूरत है। हमारे पक्ष में कुछ नहीं रहा और दबाव में हम पूरी तरह बिखर गए। यह मौजूदा सीजन का अब तक का इतिहास रहा है कि अगर अंतिम ओवर में आप बहादुरी से गेंदबाजी नहीं करते तो फिर रसेल पावर हिटर्स बल्‍लेबाजों के सामने जरूर संघर्ष करते दिखेंगे।’

विराट ने मौजूदा आईपीएल में अपना पहला अर्धशतक जमाया, लेकिन उन्‍होंने कहा कि वह इससे खुश नहीं है क्‍योंकि वह ज्‍यादा रन बना सकते थे। केकेआर ने कोहली-डिविलियर्स के बीच 108 रन की साझेदारी के बाद दमदार वापसी की और उसे 205 रन के स्‍कोर पर रोक दिया। 30 वर्षीय कोहली ने कहा, मैं अपनी बल्‍लेबाजी से ज्‍यादा खुश नहीं हूं। मुझे लगता है कि 20 या 30 रन अधिक बना सकता था।

उन्‍होंने आगे कहा, ‘मुझे लगा कि हमने बोर्ड पर पर्याप्‍त रन टांग दिए हैं, लेकिन हमने शांति नहीं रखी। हमें बात करनी चाहिए थी कि क्‍या गलत हो रहा है। मुझे नहीं लगा कि बातचीत से मदद मिलेगी। अब तक हमारा सत्र निराशाजनक रहा है। मगर हमें उम्‍मीद है कि जोरदार वापसी करेंगे। हमें अपने आप पर विश्‍वास रखना होगा।’

आरसीबी का पिछले चार सीजन में अब तक का सबसे खराब सीजन बीत रहा है। 2016 में कोहली ने आरसीबी को फाइनल में पहुंचाया। 2017 में आरसीबी की टीम 14 में से केवल तीन मुकाबले जीत सकी। 2018 में आरसीबी की टीम अंक तालिका में छठें स्‍थान पर रही। इस साल आरसीबी अब तक जीत का खाता भी नहीं खोल सकी है।

Back to top button