Breaking News
Home / ख़बर / राजनीति / नीतीश से बीजेपी को ये कैसा डर, फर्जी बता दिया संघ की जासूसी वाला लेटर

नीतीश से बीजेपी को ये कैसा डर, फर्जी बता दिया संघ की जासूसी वाला लेटर

बिहार के जिस पत्र के बाद बवाल हो गया था..जिस पत्र ने बीजेपी-जदयू के रिश्तों में तल्खी ला दी है..उसी पत्र को बीजेपी कोटे के मंत्री ने फर्जी करार दे दिया है. इस मामले में नया मोड़ तब आ गया जब बीजेपी कोटे से सूबे के मंत्री विनोद सिंह ने ही उसे फर्जी करार दे दिया.

गुरुवार को मंत्री विनोद सिंह ने कहा कि जिस खत को लेकर इतना हंगामा मच रहा है वो खत ही फर्ज़ी है. उन्होंने कहा कि ये लेटर फ़ेसबुक लेटर है और इस लेटर में कोई सच्चाई नहीं है. विनोद सिंह ने कहा कि ये गोपनीय लेटर कैसे लीक हुआ सरकार इस मामले की जांच करवा रही है.अब मंत्री विनोद सिंह के इस बयान ने अपनी पार्टी के नेताओं पर हीं सवाल खड़े कर दिए हैं.क्योंकि बीजेपी के नेता इसी लेटर के बहाने नीतीश कुमार से लगातार सवाल पूछ रहे हैं.

विशेष शाखा ने जारी की थी चिट्ठी

आपको बता दें कि 30 मई 2019 को स्पेशल ब्रांच की तरफ से आरएसएस समेत उनकी सहयोगी 19 संस्थाओं की कुंडली खंगालने के लिए एक पत्र जारी किया था. खुफिया विभाग के इस पत्र में बिहार पुलिस की स्पेशल ब्रांच के सभी अधिकारियों से आरएसएस, बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद समेत विभिन्न दलों के नेताओं के नाम, पता, पद और व्यवसाय की जानकारी देने को कहा गया था.

पत्र के बाद बिहार की राजनीति में बवाल मच गया है. हालांकि एडीजी स्पेशल ब्रांच ने सफाई देते हुए कहा था कि आरएसएस नेताओं के बारे में खुफिया जानकारी मिली थी. इसलिए सुरक्षा के लिहाजा से इस तरह का लेटर जारी किया गया था.

 

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com