खेल

VIDEO : नाकामी के बावजूद टीम से बाहर क्यों नहीं होते ऋषभ पंत, खुद बता दिए वजह

Rishabh Pant reveals why are he backed by team even if he fail to perform in one or two innings

विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पन्त (नाबाद 65) और कप्तान विराट कोहली (59) के अर्धशतकीय पारियों की बदौलत बुधवार को खेले गए भारत ने वेस्टइंडीज को तीसरे टी-20 में सात विकेट से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला 3-0 से जीत ली। पहले बल्लेबाजी करते हुए वेस्टइंडीज ने 20 ओवर में छह विकेट पर 146 रन बनाए,जवाब में भारत ने 19.1 ओवर में 3 विकेट के नुकसान पर 150 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया था. इस बीच बताते चले कैरेबियाई दौरे पर टी20 सीरीज के अंतिम मैच में पंत ने दमदार 65 रनों की पारी खेली और भारत ने यह मैच 7 विकेट से जीता था। इससे पहले दो मैचों में 4 और 0 रनों की पारियां खेलने वाले पंत को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा था।

बताते चले अपनी शानदार पारी के बारे में बात करते हुए इंडिया टीम के दिग्गज खिलाड़ी  पंत ने बताया कि वे इसको लेकर काफी अच्छा महसूस कर रहे हैं। उन्होंने भारतीय टीम के हिटमैन कहे जाने वाले रोहित शर्मा के साथ बीसीसीआई टीवी पर बात करते हुए कहा- ‘मैं स्कोर नहीं बना पा रहा था जिसकी वजह से काफी निराशा थी। लेकिन मैंने अपनी प्रक्रिया पर ध्यान दिया और मुझे नतीजा मिला।’पंत ने कोहली के साथ अपनी साझेदारी पर भी चर्चा की। यह 106 रनों की साझेदारी थी। पंत ने कहा- जब मैं और विराट भैया खेल रहे थे तब हम तय किया था कि अपने खेल को आखिर तक लेकर जाएंगे और अंतिम 7-8 ओवरों में रनगति पर काम करेंगे।

क्यों मिलता है टीम में बार-बार मौका

पंत ने बताया कि ऐसे समय में वे अपने खेल पर भरोसा रखते हैं और बेसिक्स ठीक करने पर फोकस करते हैं। जब पंत ने पूछा गया कि आपको भारत के भविष्य के विकेटकीपर के तौर पर देखा जा रहा है तो पंत कहते हैं- कभी-कभी मैं इसको लेकर दबाव महसूस करता हूं और कभी-कभी इसका लुत्फ उठाता हूं। दिन के आखिर में मेरे लिए टीम ही मायने रखती है। टीम के सीनियर खिलाड़ी मुझ पर भरोसा रखते हैं इस वजह से मुझे आत्मविश्वास मिलता है अगर कुछ मौकों पर सफल नहीं हो पाया तो भी टीम का सपोर्ट मेरे साथ है। यह एक खिलाड़ी में बहुत आत्मविश्वास देता है।

Back to top button