Breaking News
Home / ख़बर / क्राइम / सरकारी अस्पताल की संवेदनहीनता देखिए, रेप की शिकार बच्ची को मेडिकल के लिए 16 घंटे बैठाए रखा

सरकारी अस्पताल की संवेदनहीनता देखिए, रेप की शिकार बच्ची को मेडिकल के लिए 16 घंटे बैठाए रखा

बिहार में स्वास्थ्य महकमे का संवेदनहीन चेहरा एक बार फिर सामने आया है. पूरे 16 घंटे के इंतजार के बाद दुष्कर्म पीड़िता नाबालिग बच्ची की मेडिकल जांच हुई. वही भी पीड़िता के परिजनों के हाथ-पैर जोड़ने के बाद. मामला नवादा जिले का है.

नवादा सदर अस्पताल में दुष्कर्म पीड़ित बच्ची को महिला थाना पुलिस मेडिकल जांच के लिए लेकर आई थी. लेकिन बच्ची की जांच पूरे 16 घंटे के इंतजार के बाद हुई. बताया जा रहा है कि बच्ची को लेकर आई महिला पुलिस और उसके परिजनों के बार-बार कहे जाने के बाद भी डॉक्टरों ने उनकी बातों को अनसुना कर दिया गया और अगले दिन उसकी जांच की गई.

जब इस बाबत महिला डॉक्टर से इस बारे में पूछा गया तो जवाब भी हैरतअंगेज मिला. डॉक्टर का कहना था कि बच्ची को कोई दिक्कत होती तो दवा दिया जाता. 16 घंटे के बाद अगले दिन सुबह में पीड़िता का मेडिकल टेस्ट कराया गया.

दरअसल मंगलवार को जिले के सीतामढ़ी थाना क्षेत्र स्थित एक गांव में 10 वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म की वारदात हुई थी. पीड़िता की मां ने बताया कि वह खेत में काम करने गई हुई थी. बच्ची घर में अकेली थी. इसका फायदा उठाकर हीरालाल नामक पड़ोसी उसके घर में घुस गया और बच्ची से दुष्कर्म किया.

खेत से काम कर लौटने पर बच्ची ने मां को बताया. जिसके बाद महिला बच्ची को लिए थाना पहुंची और पड़ोसी हीरालाल के खिलाफ मामला दर्ज कराया. जानकारी मिलते ही पुलिस सक्रिय हुई और आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com