यूपी : GRP ने पत्रकार को सरेआम पीटा, कपड़े फाड़े फिर चेहरे पर किया पेशाब ! देखे विडियो  

0
36

UP: GRP ने पत्रकार के कपड़े उतारे, पीटा, चेहरे पर पेशाब किया, देखें Video

– डीजीपी ने लिया संज्ञान, एसपी रेलवे से 24 घंटे में पूरे प्रकरण की मांगी रिपोर्ट

लखनऊ । रेलवे के वेंडरों की पोल खोलने वाले पत्रकार को जीआरपी इंस्पेक्टर सिपाहियों की मदद से बेरहमी से पीटा था। इस मामले को पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने संज्ञान में लिया और जीआरपी इंस्पेक्टर व एक सिपाही को निलंबित कर दिया। इसके अलावा उन्होंने एसपी जीआरपी मुरादाबाद को मौके पर पहुंचने के निर्देश देते हुए 24 घंटे के भीतर पूरे मामले की रिपोर्ट मांगी है। इसके अलावा उन्होंने एडीजी रेलवे से भी मामले पर नजर बनाएं रखने को कहा है।

एक न्यूज चैनल के पत्रकार अमित शर्मा के मुताबिक, शामली में मंगलवार रात धीमानपुरा फाटक के पास दिल्ली से आ रही मालगाडी के दो डिब्बे व गार्ड का डिब्बा पटरी से उतर गए थे।

इस खबर को कवरेज करने के लिए वह साथियों के साथ घटनास्थल पर पहुंचा था। उसी दौरान इंस्पेक्टर राकेश बहादुर सिंह, आधा दर्जन सिपाहियों के साथ पहुंचे और कवरेज करने का विरोध करने लगे। जब पत्रकारों ने इसका विरोध किया तो इंस्पेक्टर व सिपाहियों ने अभद्रता शुरू कर दी। उसके मोबाइल व कैमरे में हाथ मारकर तोड़ दिया। इसके बाद पत्रकार अमित शर्मा और उसके साथी को लात-घूसों से पीटते हुए थाने ले गए। कपड़े उतारे और मुंह में पेशाब कर दिया और  मारने के बाद पत्रकार को हवालात में डाल दिया। पत्रकार की पिटाई का वीडियो वायरल होते ही पुलिस के उच्चाधिकारियों को ट्वीट किए गए। बुधवार सुबह करीब पांच बजे तक सिलसिला चलता रहा।

 

मामला पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह के संज्ञान में आया तो उन्होंने वीडियो के साक्ष्य के आधार पर जीआरपी इंस्पेक्टर व सिपाही संजय पवार निलंबित कर दिया। सस्पेंड कर दिया। इसके अलावा डीजीपी  ने मामले को गंभीरता को देखते हुए एडीजी रेलवे संजय सिंघल को पूरे मामले में नजर बनाएं रखने व एसपी रेलवे मुरादाबाद से पूरे प्रकरण की रिपोर्ट 24 घंटे के भीतर मांगी है। पत्रकार थाने के बाहर धरना देकर आरोपित इंस्पेक्टर व पुलिसकर्मियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।

पत्रकार अमित शर्मा ने बताया कि कुछ दिन पूर्व शामली रेलवे स्टेशन पर काम कर रहे अवैध वेंडरों को लेकर खबर चलाई गयी थी। इस पर एसओ जीआरपी की फजीहत हुई थी, जिससे झल्लाए एसओ ने अपना बदला पूरा किया है।