योगी ने किया रैन बसेरों का निरीक्षण, गरीबों की मदद के लिए शासन प्रशासन पूरी तरह सचेत

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार की रात महानगर के रैनबसेरों का निरीक्षण किया। उन्होंने रैनबसेरों में आश्रय लिए लोगों से वहां मिल रही सुविधाओं की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन व नगर निगम अधिकारियों से भीषण शीतलहर को देखते हुए रैनबसेरों में पर्याप्त सुविधा उपलब्ध कराने के साथ ही जगह-जगह अलाव व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को रेलवे पार्सलघर के सामने रैनबसेरा, रेलवे बस स्टेशन तथा कचहरी बस स्टेशन स्थित रैनबसेरों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के पश्चात मुख्यमंत्री ने कहा कि भीषण शीतलहरी को देखते हुए प्रदेश सरकार ने पर्याप्त संख्या में रैनबसेरे उपलब्ध कराए हैं। पूरे प्रदेश में साढ़े नौ सौ से अधिक स्थायी व अस्थायी रैनबसेरे चल रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इस बार व्यापक स्तर पर कंबल वितरण कराया गया है। जिला प्रशासन, नगर निकाय और जनप्रतिनिधियों के माध्यम से कंबल वितरित किये जा रहे हैं। अब तक दस लाख गरीबों को कंबल उपलब्ध कराया जा चुका है। पिछली बार की तुलना में इस बार दोगुना कंबल बांटा गया है। प्रशासन को यह स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि ठंड से किसी भी व्यक्ति की मौत न हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने लखनऊ और वाराणसी में रैनबसेरों का निरीक्षण किया है। वहां लोगों को निशुल्क सुविधाएं मिल रही हैं।

प्रशासन से जगह-जगह अलाव व्यवस्था सुनिश्चित कराने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि भीषण शीतलहरी की चपेट में आकर किसी भी व्यक्ति के जीवन पर संकट न उत्पन्न हो इसके लिए शासन-प्रशासन सचेत है। प्रशासन से कहा गया है कि आवश्यकता पड़ने पर और अस्थायी रैनबसेरे भी खोले जाएं।