UP में कोरोना : प्रशासन के लिए चुनौती बना ये जिला, महामारी ने CMO को भी शिकार बनाया

0
47

अलीगढ़, । जनपद में कोरोना का कहर है की थमने का नाम ही नही ले रहा। रविवार रात्रि 17 लोगो की मेडिकल और निजी लैब से पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई। बड़ी बात ये है कि उक्त लोगो मे कर्मचारी सीएमओ और दूसरा एडी ऑफिस का भी शामिल है। इसके बाद नगर निगम की टीमों ने मरीजों के क्षेत्र को सेनेटाइज करने के साथ सील करने काम शुरू कर दिया है। वहीं, स्वास्थ्य विभाग की टीम मरीजों के परिजनों के सैम्पल लेने के अलावा उनके सम्पर्क में आये लोगो की जानकारी जुटाने में लग गई है। अब जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 469 हो गई है जबकि मरने वाले मरीजों संख्या 24 है।

डीएम चन्द्र भूषण सिंह ने बताया कि रविवार की रात्रि जेएन मेडीकल कॉलेज व प्राइवेट लेब से 17 केस पॉजिटिव सामने आए हैं। जिसमे उनके परिवार को क्वारन्टीन कर करने के साथ साथ कोरोना संक्रमितों को अस्पताल में भर्ती किये जाने की कार्यवाही की जा रही है। उस एरिया को सील कर नगर निगम द्वारा सेनिटाइज कार्य किया जा रहा है।

जिन लोगो की रिपोर्ट पॉजिटिव आये हैं उनमें 59 वर्षीय पुरूष हरदुआगंज के मोहल्ला सिद्ध, 51 वर्षीय पुरूष निवासी नई बस्ती लोधी नगर छर्रा रफतपुर, 52 वर्षीय पुरूष निवासी मंगल विहार कॉलोनी। 74 वर्षीय पुरूष निवासी डोरीनगर, 30 वर्षीय युवक निवासी पुराना बाजार चंडौस, 52 वर्षीय महिला रमेश विहार, 14 वर्षीय किशोर निवासी आदर्श नगर आवास विकास कॉलोनी सासनीगेट, 53 वर्षीय पुरुष निवासी आदर्श नगर आवास विकास कॉलोनी सासनीगेट, 31 वर्षीय पुरूष निवासी कस्बा टप्पल, 31 वर्षीय महिला निवासी रघुवीर पुरी, 36 वर्षीय महिला निवासी पटवारी नगला, 48 वर्षीय पुरूष निवासी मोहल्ला नौरंगाबाद, 22 वर्षीय युवक निवासी गांव भानपुर, 19 वर्षीय युवक निवासी आईटीएम कॉलेज लोधा। 59 वर्षीय पुरुष कर्मचारी एडी ऑफिस, 22 वर्षीय युवती निवासी कटरा गभाना, 58 वर्षीय पुरूष कर्मचारी सीएमओ ऑफ़िस शामिल है।

डीएम श्री सिंह ने एक बार फिर जनता से अपील की है कि मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर रहें। अपने घर पर रहें, सुरक्षित रहें। यदि आप या आपका कोई जानकार कोरोना संक्रमित के संपर्क में आया है तो तत्काल उसकी सूचना जिला प्रशासन या कंट्रोल रूम को दें ताकि कोरोना की रोकथाम के लिए प्रभावी कार्यवाही की जा सके।