ख़बरदेश

उन्नाव गैंगरेप: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, उत्तर प्रदेश से बाहर ट्रांसफर होंगे सारे केस

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता और उसके परिवार पर बीजेपी से निलंबित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के जुल्मों की सुनवाई अब उत्तर प्रदेश में नहीं होगी. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट बेहद सख्त है, और अदालत ने इस मामले से जुड़े सारे केस यूपी से दिल्ली ट्रांसफर करने का आदेश दिया है.

उन्नाव गैंगरेप मामले में सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह पहले के चार केस दिल्ली ट्रांसफर कर देगा.  आज चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने सॉलिसिटर जनरल से कहा है कि वह इस मामले को लेकर सीबीआई डायरेक्टर के साथ बात करें.

इसके साथ ही कोर्ट ने सीबीआई और उत्तर प्रदेश की सरकार उन्नाव मामले की स्टेटस रिपोर्ट मांगी है. प्रधान न्यायाधीश की अगुवाई वाली पीठ ने सॉलिसिटर जनरल की दलील खारिज करते हुए कहा कि सीबीआई निदेशक टेलीफोन पर मामलों की जानकारी ले सकते हैं और पीठ को गुरुवार को इससे अवगत करा सकते हैं.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट रेप पीड़िता के उस खत पर सुनवाई कर रही है, जिसमें उसने सीजेआई को खत लिखकर भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के सहयोगियों से अपनी जान को खतरे की आशंका व्यक्त की थी. रविवार को इस लड़की की कार में एक ट्रक ने टक्कर मार दी थी जिसमें उसकी मौसी और चाची की मौत हुई थी जबकि वह गंभीर रूप से घायल हुई थी. ट्रक-कार की टक्कर के बाद कथित बलात्कार के मामले में पहले से जेल में बंद सेंगर पर हत्या का भी आरोप लगा है.

 

Back to top button