क्राइम

बेस्ट सेल्फी लेने को गंगा में बढ़ती गईं दो बहनें, मिलीं सिर्फ ये आखिरी तस्वीरें

गंगा घाट पर नहाने गई थी दोनों ​बहनें

प्रयागराज । मेजा थाना क्षेत्र के ड्योहटा गांव में रविवार की सुबह गंगा स्नान करने गई चचेरी बहन समेत दो लड़कियों की डूबने से मौत हो गई। पुलिस ने गोताखोर एवं जल पुलिस के सहयोग से दोनों के शव बरामद कर लिए हैं।
जानकारी के मुताबिक  मोबाइल से सेल्फी खींचने के चक्कर में बड़ा हादसा हुआ है। यूपी के प्रयागराज में गंगा में नहाते समय सेल्फी लेने के चक्कर में दो चचेरी बहने गंगा नदी में में डूब गईं। काफी खोज के बाद दोनों की लाश बरामद हुई। इस दर्दनाक घटना के बाद परिवार में कोहराम मच है। ये घटना शहर से दूर मेजा इलाके के दवहटा घाट पर बीते रविवार को हुई है। दोनों आपस में चचेरी बहने थीं और सुबह गंगा स्नान के लिए गई थीं। पुलिस के अनुसार, सेल्फी लेने के बाद मोबाइल को घाट पर रखकर दोबारा वह नदी में गई थीं और फोटो खींचने के लिए बढ़िया ऐंगल की तलाश कर रही थीं। इस दौरान वह गहरे पानी में चली गईं और उनके संभलने से पहले ही नदी की तेज धारा की चपेट में आकर डूब गईं।
बहन को बचाने के लिए लगाई छलांग
मिली जानकारी के मुताबिक यूपी के प्रयागराज जिले के मेजा इलाके में देवहटा गांव पड़ता है। यहां के रहने वाले अधिवक्ता रमेश चंद्र मिश्र की इकलौती बेटी स्वप्निल (21) और उसकी चचेरी बहन यशस्वी (13) दोनों गांव के छोर पर स्थित गंगा घाट पर नहाने गई थी और नहाते समय सेल्फी व वीडियो बना रही थी। जानकारी के अनुसार, स्वप्निल मोबाइल घाट पर रखने के लिए बाहर निकली तभी यशस्वी फोटो खिंचवाने के लिए बढ़िया एंगल के लिए गहरे पानी में चली गई और डूबने लगी। आस-पास के लोग जब तक कुछ जान पाते, इस बीच दोनों बहनें गहरे पानी में समा गईं।
हालांकि घटना की जानकारी होते ही आस-पास के लोगों ने दोनों के परिजनों को खबर दी। हादसे की जानकारी होते ही दोनों के परिजन गंगा तट पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी।  सूचना पर क्षेत्राधिकारी मेजा उमेश शर्मा और मेजा कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज पाठक मौके पर पहुंचे। दोनों के शव खोजने के लिए शहर से जल पुलिस एवं गोता खोर बुलाया और नदी में जाल डालकर उनकी खोजबीन करने लगे। लगभग तीन घंटे अथक प्रयास के बाद दोनों के शव खोज निकाला गया।
सिर्फ मोबाइल में दिखी जिंदा बहनें
घटना की सूचना पर परिजन व पुलिस मौके पर पहुंची तो घटना स्थल पर सिर्फ मोबाइल मिला, जिसमें चंद मिनट पहले उनके जिंदा रहते बनाया गया वीडियो व खींची गई तस्वीरें थीं। जबकि वह दोनों गहरे में पानी में डूब चुकी थीं। पुलिस ने गोताखोरों के माध्यम से जाल डालकर तलाश शुरू की तो लगभग एक घंटे बाद दोनों का शव बरामद हुआ। घटना के बाद परिजनों ने दोनों का घाट पर ही बगैर पोस्टमार्टम कराए अंतिम संस्कार कर दिया गया है।
Back to top button