मायानगरी

फिल्मी सितारों ने पार कर दी थी बेशर्मी की हद, सरकार ने बैन कर दिए थे ये टीवी कमर्शियल

ग्लैमर की दुनिया में अब खुलापन कुछ ज्‍यादा ही बढ़ गया हे । पश्चिमी संस्‍कृति सभ्‍यता से प्रभावित होकर भारत भी कई मायनों में बदला है । टीवी और बॉलीवुड यानी की फिल्‍मों की दुनिया में काफी अश्लीलता परोसी जा रही है, लोग इन्‍हें देख भी रहे हैं । एक समय था जब इसी खुलेपन की सीढ़ी चढ़कर कई सितारे चर्चा में आए । कई सामानों के विज्ञापन इस तरह से बनाए गए कि वो लोगों की जुबान पर चढ़ गए । लेकिन जब इन  पर हंगामा हुआ तो विज्ञापनों के प्रसारण पर रोक लगा दी गई । कुछ ऐसे ही विज्ञापनों के बारे में हम आपको आगे बता रहे हैं ।

बिपाशा और डीनो
कैलीडा अंडरवियर के इस एड में डिनो मोरिया , बिपाशा बसु के अंडरवियर को दातों से खींचते हुए नजर आते हैं । साल 1998 में आए इस एड  पर जमकर विवाद हुआ था । कुछ महिला संगठनों ने इसके खिलाफ आवाज उठाई और बाद में एड को बैन कर दिया गया । विवाद गहराया तो बिपाशा ने सफाई दी कि उनके बीएफ डिनो के साथ उनकी ये एक निजी तस्वीर है, जो गलती से साझा हो गई । ये विज्ञापन के लिए नहीं थी।

मिलिंद और मधु
टीवी कमर्शियल एड वर्ल्‍ड में ये सबसे विवादित एड माना जाता रहा है । साल 1995 में आए टर्फ शूज के इस एड में मिंलिंद सोमण और मधु सप्रे की ये नग्न तस्वीर इस की कहानी साफ-साफ बता रही है। एड को बाद में बंद कर दिया गया था । वहीं नब्बे के दशक में अरबाज खान और मलाइका अरोड़ा खान का एक कॉफी एड भी विवादों में रहा ।

इन एड्स को भी किया गया बैन
साल 2011 में आइडिया के इस कमर्शियल में बढ़ती आबादी का मैसेज इस तरह दिया गया कि एड ही बैन हो गया। वहीं फास्ट्रैक के एक एड में क्रिकेटर विराट कोहली को जेनेलिया डिसूजा रिझाती हुई दिखीं । एड में विराट पायलट बने हैं और जेनेलिया एयर हॉस्टेस। 2011 में आया ये विज्ञापन बाद में बैन कर दिया गया । 2010 में आए जेंटेक डियो के एड को भी बैन कर दिया गया थ, इसमें सुहागरात की सेज पर बैठी युवती को पड़ोसी युवक के डियो से मदहोश होते हुए दिखाया गया था ।

सना खान का डेब्‍यू एड
वहीं 2007 में आया अमूल माचो अंडरवियर का विज्ञापन, ये तो बड़ा टॉइंग है भी अपनी मादकता के लिए कुछ वक्त तक बैन रहा । इस एड से मॉडल सना खान ने डेब्यु किया था । 1991 में अभिनेत्री पूजा बेदी कामसूत्र कॉन्डम के विज्ञापन में बड़े ही मादक अंदाज में नजर आई थीं। उस दौरान इसे दूरदर्शन पर बैन कर दिया गया, बाकी चैनलों ने इसे चलाने से ही मना कर दिया।

अश्‍लीलता के कारण बैन
2007 में लक्स कोजी अंडरवियर के इस एड ने भी खूब धमाल मचाया । ये एड भी अश्लीलता के कारण कुछ समय के लिए के बैन रहा । इसके अलावा मोटोरोला सी 550 का ये एड 2008 में आया था । इस एड में ये संदेश दिया जा रहा था कि पब्लिक में फोन से कई तरह की वलगर चीजों को भी अंजाम दिया जा सकता है, ऐसे कमर्शियल को तुरंत बैन कर दिया गया ।

Back to top button