यात्रीगण सावधान: यूपी में रेलवे से यात्रा, मतलब हादसों का सफर

उत्तर प्रदेश में रेल हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. इसी क्रम में आज सुबह तड़के चित्रकूट के पास पास मानिकपुर में वास्को डि गामा एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई है. इस हादसे में ट्रेन की 13 बोगियां पटरी से उतर गई. हादसे में 10 से अधिक लोग घायल हुए हैं. जिनमें से 7 लोगों की हादल गंभीर बताई जा रही है. दुर्घटनाग्रस्त होने वाली वास्को डि गामा एक्सप्रेस ट्रेन पटना जा रही थी. यूपी में रेल हादसे थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं. इस साल प्रदेश में आधा दर्जन से ज्यादा बड़े रेल हादसे हो चुके हैं.लेकिन रेलवे इससे सबस नहीं ले रहा है.

लगातार हो रहे रेल हादसे

प्रदेश में यह पहला रेल हादसा है. इस साल कई रेल हादसे हो चुके है. सितंबर महीने में यूपी के सोनभद्र जिले में एक और रेल हादसा हुआ था. इस हादसे में शक्तिपुंज एक्सप्रेस के 7 डिब्बे पटरी से उतर गए थेॆ. ट्रेन हावड़ा से जबलपुर जा रही थी. यह घटना ओबरा थाना क्षेत्र के फफराकुंड इलाके में हुई थी. इस हादसे में ट्रेन की 21 बोगियों में से 7 बोगियां पटरी से उतर गई थी.

 

19 अगस्त को मुजफ्फरनगर में हुआ हादसा

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में भी रेल हादसा हुआ था. पुरी से हरिद्वार जा रही कलिंग उत्कल एक्सप्रेस ट्रेन मुजफ्फरनगर के खतौली रेलवे स्टेशन के पास पटरी से उतर गई थी. ट्रेन के 14 डिब्बे पटरी से उतरकर अगल-बगल के घरों और एक स्कूल में घुस गए. ये ट्रेन पुरी से हरिद्वार जा रही थी. यह हादसा इतना भीषण था कि हादसे में ट्रेन की बोगियां इंजन के ऊपर चढ गई थी. हादसा 19 अगस्त शनिवार की शाम 5 बजकर 46 मिनट पर हुआ. ट्रेन का नंबर 18477 था. इस हादसे में 23 लोगों की मौत हो गई थी.

23  अगस्त को औरैया में हादसा

खतौली रेल हादसे के होने के 5 दिन के अंदर कानपुर और इटावा के बीच औरैया जिले में एक और हादसा हुआ. ये ट्रेन आजमगढ़ से दिल्ली आ रही 12225 (अप) कैफियत एक्सप्रेस औरैया के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई. मानव रहित फाटक पर देर रात ट्रेन एक डंपर से टकरा गई थी. उत्तरी-मध्य रेलवे के प्रवक्ता के मुताबिक दुर्घटना की वजह से ट्रेन के इंजन सहित 10 डिब्बे पटरी से उतर गए थे.

 

मेरठ-लखनऊ राज्यरानी एक्सप्रेस हादसा

मेरठ-लखनऊ राज्यरानी एक्सप्रेस के 8 डिब्बे 15 अप्रैल 2017 को उत्तर प्रदेश में रामपुर के पास पटरी से उतरे, करीब 10 लोग घायल हुए थे. हादसा मुण्डा पांडे और रामपुर रेलवे स्टेशन के बीच हुआ था. रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने घायल यात्रियों के लिए 50,000-50,000 रुपये के मुआवजे की घोषणा की थी.

महाकौशल एक्सप्रेस हादसा

यूपी के महोबा में 30 मार्च, 2017 को महाकौशल एक्सप्रेस पटरी से उतरी, 50 से ज्यादा लोग घायल हुए थे.यह हादसा रात क़रीब 2 से सवा दो बजे महोबा और कुलपहाड़ स्टेशन के बीच हुआ था. हादसे के बाद इलाहाबाद-झांसी रूट प्रभावित हुआ था.