Breaking News
Home / ख़बर / देश / एक पति पर तीन-तीन औरतों ने ठोका दावा, थाने में घंटो चला हाई वोल्टेज ड्रामा

एक पति पर तीन-तीन औरतों ने ठोका दावा, थाने में घंटो चला हाई वोल्टेज ड्रामा

मंजू और सुमन भी पहुंची थाने

ये हैरान कर देने वाला मामला राजस्थान के भिवाड़ी से सामने आया है. इस मामले ने पुलिसवालो के भी रौंगटे खड़े कर दिए. जानकारी के लिए बताते चले  दरअसल, थाने में एक 40 वर्षीय व्यक्ति पर तीन महिलाएं अपना-अपना दावा ठोकने के लिए पहुंच गईं। दो महिलाओं ने उसे अपना पति बताया, लेकिन कोई भी महिला शिकायत देने के लिए राजी नहीं हुई। ये देखकर भिवाड़ी के फूलबाग थाने में मौजूद पुलिस भी परेशान हो गई।

क्या है मामला

जानिए क्या है पूरा मामला 

सूत्रों के मिली जानकारी के मुताबिक बताते चले भिवाड़ी की रहने वाली बंटी देवी नाम की एक महिला 40 वर्षीय हरिओम नाम के व्यक्ति को लेकर थाने पहुंची। बंटी ने पुलिस को दी गयी जानकारी में बताया कि तीन वर्ष पहले उसके पति की मौत हो गई थी। जिसके बाद हरिओम से उसकी मुलाकात हुई। दोनों ने परिजनों के सामने विवाह दिया था। बंटी ने आगे बताया कि हरिओम ने अपनी पहली पत्नी को तलाक दे दिया है। महिला ने आरोप लगाया कि पिछले कुछ समय से हरिओम उससे झगड़ा कर बेटे के पास गुरुग्राम चला जाता है। जहां उसका बेटा एक महिला के पास रहता है। इस बात को लेकर हरिओम और उसका झगड़ा चल रहा है। इसकी शिकायत देने वह उसे थाने लेकर आई है। बंटी ने पुलिस से कहा कि वह उसके साथ रहे नहीं तो उसे धोखाधड़ी के आरोप में जेल में डाले।

मंजू और सुमन भी पहुंची थाने

ये मामला यहाँ नहीं थमा बता दे जब ये दोनों थाने में ही मौजूद थे तभी गुरुग्राम की रहने वाली मंजू नाम की महिला भी अचानक थाने में पहुंच गई। मंजू ने अपनी जानकारी देते हुए बताया कि वह हरिओम और उसकी पहली पत्नी सुमन को पिछले 10-15 सालों से जानती है। उसने बताया कि हमारे परिवार ने हरिओम के बुरे वक्त में उसकी मदद की थी। सुमन ने अलग होने के बाद से ही उसका बड़ा बेटा उसके पास ही रह रहा था। इसलिए हरिओम उसके घर आता-जाता है। अभी यह मामला चल ही रहा था तभी हरिओम की पहली पत्नी सुमन भी थाने आ पहुंची। उसने पुलिस के सामने दावा किया कि हरिओम ने उसे तलाक नहीं दिया है। उसने झूठ बोलकर दूसरी महिला से शादी कर ली है।

शांतिभंग की धाराओं में पुलिस लिया हिरासत में

शांतिभंग की धाराओं में पुलिस लिया हिरासत में

सुमन ने कहा कि तलाक के सबूत को वह थाने में पेश करे। परिवार को उसकी जरूरत है वह आकर साथ रहे। अगर वह साथ नहीं रह सकता तो हमें गुजारे के लिए पैसे दे। जब पुलिस विवाद को नहीं सुलझा पाई तो उसने तीनों से शिकायत देने को कहा। इस बात पर गुरुग्राम निवासी महिला मंजू व पहली पत्नी सुमन एक पाले में हो गईं। मंजू ने कहा कि हरिओम अगर अपनी पत्नी व बेटे के साथ रहेगा तो उसे कोई परेशानी नहीं होगी, लेकिन अगर वह भिवाड़ी निवासी महिला के पास रहेगा तो वह उसका सारे हिसाब को चुकता कर दे। फूलबाग थाने के एसएचओ बालाराम ने बताया कि फिलहाल हरिओम को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com