Breaking News
Loading...
Home / ख़बर / देश / सिद्धू की आवाज जाने का खतरा, डॉक्टरों ने दी चेतावनी कहा- ‘अब ऐसा किया तो…’ 

सिद्धू की आवाज जाने का खतरा, डॉक्टरों ने दी चेतावनी कहा- ‘अब ऐसा किया तो…’ 

Loading...

सिद्धू की आवाज को खतरा, डॉक्‍टरों ने कहा- अब ऐसा किया तो चली जाएगी बोलने की शक्ति

पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री और शानदार वक्ता और बेबाक शैली के लिए मशहूर पूर्व क्रिकेटर और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की आवाज जाने का बड़ा खतरा पैदा हो गया है। उन्हें पांच दिन कंप्लीट रेस्ट की सलाह दी है। बताया जाता है कि डॉक्‍टरों ने कहा है कि अब यदि अधिक बोला तो उनकी आवाज जा सकती है।  सिद्धू ने विभिन्न राज्यों में विधानसभा चुनाव की वजह से कांग्रेसी उम्मीदवारों के पक्ष में 17 दिनों तक जबरदस्त चुनाव प्रचार किया, जिसके बाद उनके वोकल कॉर्ड्स को काफी नुकसान पहुंचा है. उन्होंने इस दौरान लगभग 70 जनसभाओं को संबोधित किया. राज्य सरकार के अनुसार, पंजाब के स्थानीय प्रशासन, पर्यटन और सांस्कृतिक मामलों के मंत्री सिद्धू के वोकल कॉर्ड को नुकसान पहुंचा है. वह पूरी तरह जांच कराने और स्वास्थ्य लाभ के लिए अज्ञात ठिकाने पर चले गए हैं.

गुरुवार को जारी एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि पिछले 17 दिनों तक सिद्धू ने लगातार चुनाव प्रचार में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने 70 से अधिक जनसभाएं कीं। बयान में कहा गया कि लगातार चुनाव प्रचार के दौरान भाषणों और हवाईयात्रा ने उनकी आवाज को काफी नुकसान पहुंचाया है। डॉक्टरों ने उनकी आवाज को खतरा बताते हुए पूरी तरह से आराम की सलाह दी है।

Loading...
Copy

पहले भी रही है दिक्कत
एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि हवाई जहाज और हेलिकॉप्टर से लगातार यात्रा ने उनके स्वास्थ्य को खासा नुकसान पहुंचाया है। यह इसलिए भी साल पहले लगातार हवाई यात्रा करने के कारण वह डीप वेन थ्रोम्बोसिस (डीवीटी) से पीड़ित रहे थे।

अज्ञात स्थान पर गए सिद्धू
प्रवक्ता ने बताया कि खून के कई परीक्षण के बाद ही डॉक्टरों ने उन्हें यह सलाह दी है। प्रवक्ता ने बताया कि पूरी जांच और स्वास्थ्य लाभ के लिए सिद्धू किसी अज्ञात स्थान पर हैं। प्रवक्ता के मुताबिक वहां सिद्धू डॉक्टरों की निगरानी में हैं और उके निर्देश पर उनकी फिजियोथेरेपी भी हो रही है।

सिद्धू ने कांग्रेस के स्टार प्रचारक के रूप में राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और तेलंगाना के चुनावों से पहले 17 दिन में 70 से अधिक जनसभाओं को संबोधित किया. अपनी अद्भुत वाकक्षमता के लिए लोकप्रिय सिद्धू करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास समारोह के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के निजी निमंत्रण पर 28 नवंबर को पड़ोसी देश के दौरे पर गए थे.

राज्य सरकार के अनुसार, ‘नवजोत सिंह सिद्धू ने 17 दिन तक आक्रामक चुनाव प्रचार किया, जिसमें उन्होंने एक के बाद एक 70 से अधिक जनसभाओं को संबोधित किया और व्यस्त दिनचर्या की वजह से उनका वोकल कॉर्ड प्रभावित हुआ है. डॉक्टरों ने उनसे कहा है कि वह आवाज खोने के कगार पर हैं, इसलिए उन्हें तीन से पांच दिन का पूरी तरह आराम करने की सलाह दी गई है.’

लगातार हेलीकॉप्टर और विमान यात्राओं ने भी उनके स्वास्थ्य पर बुरा असर डाला है. बता दें कि कुछ साल पहले बहुत ज्यादा विमान यात्राओं की वजह से सिद्धू डीवीटी (डीप वीन थ्रोम्बोसिस) का शिकार हुए थे और उनका इलाज किया गया था. इस वजह से लगातार हेलीकॉप्टर और विमान यात्राएं उनकी सेहत के लिए नुकसानदेह रही हैं. इसके अनुसार, सिद्धू की कई रक्त जांच की गई हैं और वह पूरी तरह जांच तथा स्वास्थ्य लाभ के लिए अज्ञात स्थान पर चले गए हैं. सिद्धू को प्राणायाम और फिजियोथैरेपी के साथ विशेष ध्यान कराया जा रहा है.

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com