Breaking News
Home / जिंदगी / जरा हट के / चिता से खड़ा होकर ‘मुर्दा’ बोला- गलती से ले गए थे यमदूत, यमराज ने उनको खूब डांटा !

चिता से खड़ा होकर ‘मुर्दा’ बोला- गलती से ले गए थे यमदूत, यमराज ने उनको खूब डांटा !

कहते है जीवन और मृत्यु दुनिया का वो चक्र है, जिससे आज तक कोई नहीं बच सका है. हालांकि किसी व्यक्ति की जिंदगी और मौत का समय उसके पैदा होने के साथ ही तय हो जाता है. मगर कभी कभी कुछ ऐसा भी हो जाता है, जिसके बारे में जान कर मौत से ही विश्वास उठ जाता है. आज हम आपको ऐसी ही एक घटना से रूबरू करवाने वाले है, जिसके बारे में जान कर आप भी हैरान रह जायेंगे. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ये घटना यूपी के फिरोजाबाद की है. जहाँ एक शख्स की मौत हो गई थी, लेकिन हैरानी की बात तो ये है कि वो शख्स कुछ ही घंटो बाद जिन्दा हो गया. जिन्दा होने के बाद उस शख्स ने जो बात अपने परिवार को बताई, उसके बारे में जान कर उसका परिवार भी काफी हैरान है.

ये मामला फिरोजाबाद जिले के मक्खनपुर थाना क्षेत्र का है. बता दे कि यहाँ रहने वाले सत्तर साल के बुजुर्ग जिनका नाम ज्ञान सिंह है, वो पिछले कई दिनों से बीमार चल रहे थे. जी हां दरअसल उन्हें ब्लड प्रेशर और शुगर सहित कई और बीमारिया भी थी. जिनका अभी इलाज चल रहा था. मगर गुरुवार यानि एक फरवरी को ही उनकी मौत हो गई. गौरतलब है, कि उनका परिवार उनके अंतिम संस्कार की तैयारी कर रहा था और उनके सभी रिश्तेदार भी वहां पहुँच चुके थे.

मगर शाम को करीब चार बजे शमशान घाट जाने से पहले मृतक के शरीर में कई बदलाव आने लगे. जी हां इस दौरान शरीर पर कई नीले निशान पड़ गए और हाथ में फफोले भी निकलने लगे थे. हालांकि जब तक लोगो को कुछ समझ आता तब तक ज्ञान सिंह खुद उठ कर बैठ गया. जहाँ एक तरफ उसके परिवार वाले खुश थे, वही दूसरी तरफ उन्हें काफी हैरानी भी हो रही थी. केवल इतना ही नहीं इसके इलावा इस घटना के बाद दूर दूर से लोग ज्ञान सिंह को देखने के लिए पहुँच रहे थे. इसके साथ ही ज्ञान सिंह ने जिन्दा होने के बाद जो बातें बताई, वो भी काफी हैरान करने वाली थी. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ज्ञान सिंह ने बताया कि तीन लोग उन्हें पकड़ कर किसी दूर पहाड़ पर एक सुंदर सी जगह पर ले गए.

जहाँ एक बड़ा सोने का गेट था. इसके इलावा उस गेट पर कई पहरेदार भी खड़े था. जिन्होंने उसे अंदर नहीं जाने दिया. इसके इलावा जो लोग ज्ञान सिंह को पकड़ कर ले गए थे, उन्हें भी चौकीदारों ने खूब डांटा था. केवल इतना ही नहीं इसके बाद ज्ञान सिंह ने बताया कि इस दौरान एक पहरेदार ने उस पर गर्म चीज फेंकी और उसे धक्का भी मारा. जिसके बाद वो सीधा नीचे आ गिरा.

गौरतलब है कि उस गर्म चीज की वजह से नीचे गिरने के बाद ज्ञान सिंह के शरीर पर नीले निशान पड़ गए थे. इसके इलावा उसी चीज की वजह से हाथो पर फफोले भी निकल गए थे. जी हां ज्ञान सिंह ने बताया कि इसी वजह से उसके शरीर में दर्द भी हो रहा था. आपको जान कर ताज्जुब होगा कि ज्ञान सिंह ने कहा कि यमदूतो से गलती हो गई थी, क्यूकि वो किसी और की जगह मुझे ले गए थे.

अब आप इसे भगवान् की मर्जी कहे और ज्ञान सिंह की किस्मत, लेकिन जिसकी मौत जब आनी है तभी आएगी, क्यूकि उससे पहले तो यमदूत भी कुछ नहीं कर सकते.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com