सौंदर्य के लिए ही नहीं, सेहत के लिए भी बहुत लाभकारी है ये छोटी सी चीज़

0
32

कुछ खबरें ऐसी होती हैं, जिन पर भरोसा करना नामुमकिन सा  होता है। मगर जब बात सेहत से जुडी हो तो एक बार सोचने पर इन्सान मजबूर हो जाता है। आजकल इस भागदौड़ भरी जिंदगी में हम लोग अपनी सेहत पर ध्यान नहीं दे पाते जिसका खामियाजा हमे बाद में भुगतना पड़ता है. इस बीच बताते चले  गुलाबजल एक प्राकृतिक उत्पाद है। गुलाब सिर्फ खूबसूरती के लिए ही नहीं, बल्कि आपकी सेहत के लिए भी फायेदमंद है। इसके सही इस्तेमाल के लिए गुलाब को कई प्रक्रियाओं से गुजार कर आप तक पहुंचाना आसान काम नहीं। इस गुलाब के जल से आप अपना सौंदर्य कैसे निखार सकती हैं, इसी संबंध में यहां दिए जा रहे हैं। कुछ कारगर उपाय जानकर दंग रह जाएंगे आप… गुलाबजल एंटीसेप्टिक और एंटी बैक्टीरियल गुणों से भरपूर माना जाता है। जो आपकी आंखों को धूल, प्रदूषण, जलन लालपन और मेकअप प्रोड्क्ट के हानिकारक तत्वों के प्रभाव से दूर रखने के लिए मददगार है।

Image result for गुलाब जल से स्किन और सेहत रहे मस्त

रात को सोने से पहले कच्चे दूध में गुलाबजल की कुछ बूदें मिलाकर कॉटन से चेहरे, गर्दन और हाथों की त्वचा को अच्छी तरह साफ करें। इससे त्वचा पर जमी दिन भर की धूल-मिट्टी हट जाएगी और त्वचा सुंदर दिखेगी। इसके नियमित इस्तेमाल से आपकी त्वचा के दाग-धब्बे भी दूर जाते हैं।

गुलाबजल आपकी त्वचा के पीएच बैलेंस को बनाए रखता है और इसके इस्तेमाल से पुरानी कोशिकाओं की मरम्मत और नई कोशिकाओं के निमार्ण में मदद मिलती है।

आंखों को डार्क सर्कल्स से बचाने के लिए खीरे को कद्दूकस करके उसका रस निकाल लें। अब इस रव में गुलाबजल की दो-चार बूंदें मिलाकर फ्रिज में रख दें और रात को सोने से पहले उसे आंखों की पलकों के ऊपर रखें। इससे डार्क सर्कल्स तो दूर हो ही जाते हैं

2 चम्मच उडद की दाल को गुलाबजल में रात भर के लिए भिगो दें। सुबह उसे पीसकर पेस्ट बना लें। इसे गर्दन पर लगाएं। 10 मिनट बाद ठंडे पानी से साफ कर लें। यह गर्दन की ठीक से सफाई कर देता है।

रोके संक्रमण को
गुलाब जल में शक्तिशाली एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं, जो न सिर्फ संक्रमण को रोकने में मदद करते हैं, बल्कि उससे लड़ने में भी काफी प्रभावशाली तरीके से काम करते हैं। यहां तक कि इसके एंटीसेप्टिक और एनाल्जेसिक गुणों के कारण अक्सर लोग इसे अपनी आंखों में आई ड्रॉप की तरह भी इस्तेमाल करते हैं।
सिरदर्द से दिलाए राहत 
अक्सर अरोमा थेरेपी में गुलाब जल का प्रयोग किया जाता है। दरअसल, गुलाब जल की कूलिंग प्रापर्टीज और इसकी खुशबू सिरदर्द को काफी हद तक ठीक कर देती है। इतना ही नहीं, इससे आपके शरीर को भी काफी रिलैक्स महसूस होता है। इसके लिए आप अपने सिर को कुछ देर के लिए गुलाब जल में डुबोकर रखें।
पाचन परेशानियां होंगी दूर 
आपको शायद यकीन न हो लेकिन गुलाब जल आपके पाचन तंत्र के लिए काफी लाभदायक सिद्ध होता है। इसमें कुछ ऐेसे तत्व पाए जाते हैं जो पाचन संबंधी गड़बड़ियों को दूर करने में मदद करता है। इसके लिए आप गुलाब जल को अपनी आईस टी में मिक्स करके पीएं। गुलाब जल को विभिन्न व्यजंनों में इस्तेमाल करने से आपका पाचनतंत्र सही तरह से काम करने लगेगा।
करे तनावमुक्त
आज के समय में हर कोई तनावग्रस्त रहता है। ऐसे में अपने मूड को बेहतर बनाने के लिए आप गुलाब जल का इस्तेमाल करें। सबसे पहले तो इसकी खुशबू ही अपना कमाल कर देती है। इसके अतिरिक्त इसमें एंटीडिप्रैंसेंट और एंटी-एक्साइटी प्रापर्टीज होती हैं, जो आपके मूड को बेहतर बनाने का काम करती है। इतना ही नहीं, साल 2011 में बेसिक मेडिकल साइंस के ईरानी जर्नल में प्रकाशित के एक अध्ययन में पाया गया था कि गुलाब की पंखुड़ियां आपके नर्वस सिस्टम को रिलैक्स करने का काम करती हैं, जिसके कारण आप तनावमुक्त हो जाते हैं। इसके इस्तेमाल के लिए आप अपने रूमाल या फिर कमरे में इसे छिड़कें। जब इसकी महक कमरे में फैलेगी तो आपका मूड भी अच्छा हो जाएगा।