जरा हट के

मजेदार जोक्स: जब लड़की ने किया ज्यादा स्मार्ट होने का दावा, तो लड़के ने पूछा एक सवाल

हंसने-हंसाने का मामला तो कुछ ऐसा है कि इसे जितना भी किया जाए यह कम ही लगता है। कारण कि  हंसने के केवल फायदे ही फायदे हैं। वैसे भी खुशियां बांटने से भी किसी का नुकसान हुआ है भला, जो किसी को सुनने को मिले। बहरहाल, बावजूद इसके कई लोग हैं जो अधिकांश समय बिना हंसी-मजाक के बिता देते हैं। पता नहीं कैसे-कैसे लोग होते हैं यार। मतलब हंसे बिना कोई कैसे रह सकता है।

 

जिस प्रकार व्यायाम करने से शरीर को ताजगी का एहसास होता है उसी प्रकार हंसने से भी मनुष्य स्वस्थ रहता है और उसके स्वभाव् में भी बदलाव आता है. वैज्ञानिक शोध के अनुसार खुलकर हंसने से मनुष्य के अंदर एक हार्मोन होता है वह निकलता है जिसका नाम है एंडोर्फिन. यह अपने आप ही मनुष्य के दर्द का निवारण करता है.

 

जिसको की हम खुलकर हंस कर बाहर निकाल सकते है. और हम आपको बता दे की हँसना भी एक तरह से व्यायाम है. जो फायदा हमें व्यायाम करने से मिलता है वाही फायदा हम दिनभर में कुछ पल खुलकर हँसकर उठा सकते है. हंसने से हमारे शरीर में रोगों से लड़ने वाले तंत्र मजबूत होता है और हमें तनाव जैसी बीमारी से दूर रखते है

 

हंसने से आप एक ऐसी बीमारी को नियंत्रित कर सकते जोकि कई बार डॉक्टर्स भी नहीं कर पाते ऐसी ही इस बीमारी का नाम है ब्लड प्रेशर. व्यक्ति को अपना आत्मविश्वास और मानसिक स्तर मजबूत करने के लिए दिन में कुछ पल हँसना जरुर चाहिए.

आपकी हंसी आपके लिए मुसीबत के समय एक हथियार के रूप में काम आ सकती है हँसते हँसते आप बड़ी बड़ी परेशानियों और चुनोतियों का सामना करने में निपुण होते है. आपकी हंसी आपको चिडचिडेपन से मुक्ति दिलाती है

एक औरत ने भी हद कर दी… उसने मोदी जी को एक पत्र लिखा जिसमे एक योजना बताई की दारू की दाम दुगनी कर के दारू की दूकान को आधार कार्ड से जोड़ दे और आधा पैसा पीने वाले की पत्नी के अकाउंट में सब्सिडी की तरह वापस कर देना चाहिए जिससे ये फायदे होंगे ! 1. पति लिमिट में पियेगा, क्योंकि उसके नशे की मात्रा उसकी पत्नी के बैंक बैलेंस के बराबर रहेगी । 2. पत्निया पीने के लिए कभी मना नही करेंगी । 3. पत्नी को मालूम रहेगा, आज पति ने कितनी पी । 4. जिस की पत्नी का अकाउंट नहीं है वो भी खुल जाएगा । ( हो सकता है किसी किसी की पत्नी को आयकर – रिटर्न भी दाखिल करना पड़े ) नई सोच को सलाम!!

अपनी हंसमुख शैली के कारण मनुष्य कई सारी दिनभर की परेशानियों से बच सकता है जैसे की निरस्त, एकाकीपन, थकान, मानसिक तनाव, और भी बहुत सारे शारीरिक दर्दो से, हँसना एक भरपूर मात्रा में कैलोरी खर्च करने वाला व्यायाम होता है.

मगर नहीं। ऐसे भी लोग तो होते ही हैं। तभी तो हम जैसे कुछ फरिश्ते हर दिन निकल पड़ते हैं हंसी-ठिठोली का यह खजाना लिए, ताकि आते-जाते ही सही मगर आपकी नजर इस बात पर पड़ जाए तो आप कम से कम खुलकर मुस्कुरा तो सके। अब ज्यादा देर मत कीजिए। यह स्टोरी पढ़िए। नटखट चुटकुलों का यह खजाना आपके लिए हंसी का पिटारा साबित होगा

Back to top button