Breaking News
Home / ख़बर / देश / भाजपा की प्रचंड जीत के बाद कम्‍प्‍यूटर बाबा के बदले सुर, PM मोदी पर बोली गज़ब की बात

भाजपा की प्रचंड जीत के बाद कम्‍प्‍यूटर बाबा के बदले सुर, PM मोदी पर बोली गज़ब की बात

Image result for कम्‍प्‍यूटर बाबा  MODI

लोकसभा चुनाव के दौरान भोपाल से कांग्रेस उम्‍मीदवार दिग्विजय के लिये प्रचार करने वाले कम्‍प्‍यूटर बाबा के तेवर अब नरम पड़ गये हैं। चुनाव नतीजे आने के बाद कम्‍प्‍यूटर बाबा ने   इंदौर में पत्रकारों से बात की और भाजपा की जीत पर नरेन्‍द्र मोदी को बधाई दी। हालांकि कम्‍प्‍यूटर बाबा ने लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत का दावा किया था। यही नहीं, उन्‍होंने दिग्विजय की जीत पक्‍की करने के लिये हठ योग तक किया। लेकिन चुनाव नतीजे आने के बाद अब कम्‍प्‍यूटर बाबा के बोल ही बदल गये।

 

कम्‍प्‍यूटर बाबा के शनिवार को इंदौर में पत्रकारों से बातचीत में हाव-भाव पूरी तरह बदले-बदले नजर आये। उन्‍होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में भाजपा को बड़ी जीत मिली है। इस जीत के लिये मैं नरेन्‍द्र मोदी को बधाई देता हूं। भाजपा को मिले पूर्ण बहुमत के बाद अब उन्‍हें राम मंदिर का निर्माण शुरू करवाना चाहिये। उन्‍होंने कहा कि इस कार्य के लिये मैं और पूरा संत समाज मोदी के साथ खड़ा है।

 

पत्रकारों के दिग्विजय सिंह की हार पर पूछे गये सवाल पर उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस के लिये मंथन की बात है। लेकिन दिग्विजय ने चुनाव बहुत अच्‍छा प्रदर्शन किया, साथ ही संत समाज ने भी उन्‍हें अपना पूर्ण समर्थन दिया। लेकिन जनता का जनादेश लोकतंत्र में सर्वोपरि होता है। लोकसभा चुनाव में जनता ने नरेन्‍द्र मोदी पर भरोसा किया, जिसे वे पूरा करें। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस को अपनी हार के लिये मंथन करना होगा। हम भाजपा-कांग्रेस और किसी राजनीति पार्टी वाले नहीं हैं, हम तो साथ खड़े रहने वाले लोग हैं। पांच साल हम कांग्रेस की कमलनाथ सरकार का काम देखेंगे, यदि वे गड़बड़ी करती हैं, तो उसे भी हटाकर बाहर कर देंगे। दिग्विजय सिंह की हार पर समाधि लेने के सवाल पर कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि यह अफवाह है। हम संत समाज तो धर्म के लिये खड़े हैं। यदि मोदी ने राम मंदिर नहीं बनाया तो हम उनके विरोध में हमेशा खड़े रहेंगे।

उल्लेखनीय है कि नर्मदा यात्रा में घोटाले के खिलाफ यात्रा निकालने वाले कम्‍प्‍यूटर बाबा को शिवराज सरकार ने राज्यमंत्री का दर्जा दिया था। जिसके कुछ महीने बाद उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया था। बाद में विधानसभा चुनाव में खुलकर कांग्रेस का समर्थन करते हुये पार्टी के लिये चुनाव प्रचार में जुट गये थे। कांग्रेस के सत्ता में आते ही कंप्यूटर बाबा को ‘मां नर्मदा, मां शिपरा और मां मंदाकिनी नदी न्यास’ का अध्यक्ष बना दिया। इसके बाद लोकसभा चुनाव में बाबा ने हजारों संतों के साथ भोपाल में दिग्‍व‍िजय के समर्थन में प्रचार करते नजर आये। यही नहीं कांग्रेस की जीत की भविष्‍यवाणी करते हुये उन्होंने दिग्विजय के पक्ष में रोड शो और अनुष्ठान भी किया। लेकिन चुनाव परिणाम आते ही उनके सुर बदल गये हैं।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com