मगरमच्छों पर भी पाकिस्तानियों को नहीं आया रहम, Zoo में ‘लाल’ कर दिया जिस्म

0
25

फोटो देखकर आप चौंक सकते हैं! आपको लगेगा कि मगरमच्छों के शरीर पर खून कैसे? लेकिन यह खून नहीं जाहिल पाकिस्तानियों की सोच है, जो इन मूक जानवरों के शरीर पर पीक-थूक बन कर गिर रही है। द न्यूज में प्रकाशित पान और गुटखे की पीक से सने दो मगरमच्छों की एक फ़ोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस फ़ोटो को देखकर इस बात का अंदाज़ा बख़ूबी लगाया जा सकता है कि पाकिस्तान में बेज़ुबान जानवरों के साथ कितना बुरा व्यवहार किया जाता है।

पत्रकार जिया उर रहमान ने प्रकाशित फ़ोटो पर कैप्शन के साथ ट्वीट किया कि कराची चिड़ियाघर का यह एक खेदजनक दृश्य है, जहाँ आने वाले आगंतुक मगरमच्छों पर पान और गुटखे की पीक थूकते हैं। इस दौरान मगरमच्छों के शरीर पर लाल रंग के धब्बे पड़ जाते हैं।

सांसद और पीपीपी नेता शेरी रहमान ने भी टिप्पणी की कि वह “यह देखकर शर्मिंदा हैं।”

पत्रकार सनम मैहर और अंबर शम्सी ने भी ट्विटर पर अपना आक्रोश व्यक्त करते हुए लिखा कि कैसे जाहिल लोग हैं जो चिड़ियाघर के जानवरों पर पान-गुटखे की पीक थूकते चलते हैं।

पाकिस्तान में पशुओं के साथ क्रूरता भरा व्यवहार किए जाने की यह कोई नई ख़बर नहीं है। चिड़ियाघर में जानवरों को टॉर्चर करना और उन्हें परेशान करके मज़े लेना वहाँ के लोगों की आम बात है।

पिछले साल, एक्टिविस्ट और वकील जिब्रान नासिर ने एक लड़के की तस्वीरें ट्वीट की थीं, जिसने बिल्ली के बच्चे को प्रताड़ित करते हुए सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट किया था।