उत्तर प्रदेशख़बर

सेंगर के खिलाफ हुई मर्डर की जो एफआईआर, उसमें योगी के मंत्री के दामाद का भी नाम !

अरुण सिंह को योगी सरकार में कृषि राज्य मंत्री रणवेंद्र सिंह का दामाद बताया जा रहा है

उन्नाव दुष्कर्म कांड की पीड़ित युवती के साथ रायबरेली में हुये सड़क हादसे के मामले की जांच के लिए सीबीआई टीम ने बुधवार को घटनास्थल पर पहुंचकर बारीकी से जांच शुरू कर दी है। केन्द्र सरकार से हरी झंडी मिलने के बाद बुधवार को  सीबीआई लखनऊ के एंटी करप्शन ब्रांच (एसीबी) ने बांगरमऊ सीट से भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर उनके भाई मनोज सहित 25 लोगों पर हत्या, हत्या का प्रयास की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। सीबीआई द्वारा दर्ज एफआईआर में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, मनोज सिंह सेंगर, विनोद मिश्रा, हरिपाल सिंह, नवीन सिंह, कमल सिंह, अरुण सिंह, ज्ञानेंद्र सिंह, रिंकू सिंह, वकील अवधेश सिंह समेत 15 अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया गया है। सीबीआई जल्द ही पूरे मामले को लेकर परिवार व आरोपित क्लीनर, चालक से पूछताछ कर सकती है।

वही इस मामले में एक चौका देने वाली बात सामने आयी है. बता दे इन नामजद अभियुक्‍तों में यूपी सरकार में दिग्गज मंत्री के दामाद का भी नाम शामिल है। जानकारी के लिए बता दे वो नवाबगंज से ब्‍लॉक प्रमुख भी है। इसके अलावा नामजद की लिस्ट में आरोपी विधायक का भाई, सेना का रिटायर्ड जवान, वकील और ठेकेदार भी शामिल हैं। रेप पीड़िता के चाचा की शिकायत पर ये एफआईआर दर्ज किया गया है। इसमें हत्‍या और हत्‍या की कोशिश की धाराएं भी शामिल हैं।

वकील और ठेकेदार का भी नाम शामिल

जानकारी के मुताबिक बताते चले नामजदों में शामिल अरुण सिंह विधायक के बेहद करीबी के साथ साथ यूपी के फतेहपुर जिले के हुसैनगंज विधानसभा क्षेत्र से विधायक एवं यूपी सरकार में कृषि राज्य मंत्री रणवेंद्र प्रताप सिंह उर्फ धुन्नी सिंह के दामाद भी हैं। यूपी के उन्नाव की राजनीति में अच्छी पकड़ के अलावा अरुण सिंह का क्षेत्र में खासा प्रभाव है। बता दे उन्हें कई बार बड़े नेताओं और अफसरों के बीच भी देखा गया है। इस बाबत पूछने पर राज्य मंत्री धुन्नी ने कहा, हां वो हमारे दामाद हैं। उनका दामाद होना कोई अपराध नहीं है। सामाजिक रिश्तों में कोई भी किसी का दामाद, भतीजा, भाई हो सकता है। जांच एजेंसियां मामले की पड़ताल कर रही हैं, जो भी चीजें होंगी वो सामने आ जाएंगी। वही बताते चले नामजद लोगों में वकील अवेधश सिंह का नाम भी शामिल है। अवेधश सिंह विधायक कुलदीप सेंगर के मामले को देखते हैं। इस मामले में विधायक के करीबी विनोद मिश्रा, ठेकेदार कोमल सिंह और रिंकू सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। इसके अलावा 15-20 लोग अन्य में शामिल है।

 

Back to top button