एयर इंडिया को बेचने के फैसले को सुब्रमण्यम स्वामी ने बताया राष्ट्र विरोधी, बोले- जाऊंगा सुप्रीम कोर्ट

0
38

अपनी टिप्‍पणियों को लेकर अक्‍सर मीडिया की सुखिर्यों में रहने वाले केन्द्र में सत्ताधारी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य सुब्रह्मण्यम स्वामी ने मोदी सरकार द्वारा ‘एयर इंडिया’ में 100 फीसदी हिस्सेदारी बेचे जाने की योजना पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि एयर इंडिया को बेचना पूरी तरह राष्ट्रविरोधी काम है। स्वामी ने इस मुद्दे पर अपनी ही सरकार के खिलाफ कोर्ट जाने की भी धमकी दी है।

बता दें कि, मोदी सरकार ने ‘एयर इंडिया’ में 100 फीसदी हिस्सेदारी की बिक्री के लिए सोमवार को प्रारंभिक सूचना ज्ञापन जारी किया। निविदा दस्तावेज के अनुसार रणनीतिक विनिवेश के तौर पर एयर इंडिया ‘एयर इंडिया एक्सप्रेस’ की 100 प्रतिशत हिस्सेदारी और संयुक्त उद्यम एआईएसएटीएस की 50 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगा। एयरलाइन के प्रबंधन पर नियंत्रण सफल बोली लगाने वाले को हस्तांतरित किया जाएगा। सरकार ने रुचि पत्र जमा कराने की समयसीमा 17 मार्च तय की।

सरकार की इस घोषणा पर भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी भड़क गए। स्वामी ने ट्वीट कर कहा, ‘एयर इंडिया के विनिवेश की प्रक्रिया आज से शुरू हो रही है। ये डील पूरी तरह से राष्ट्र विरोधी है और मैं इसके खिलाफ कोर्ट जाने के लिए बाध्य हूं। हम अपने परिवार के रत्न नहीं बेच सकते।’ भाजपा सांसद के ट्वीट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स की प्रतिक्रियाएं भी आने शुरू हो गई हैं।

सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया लंबे समय से घाटे में चल रही है। वित्त वर्ष 2018-19 में एयर इंडिया को 8,556 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। अभी कंपनी पर 80,000 करोड़ रुपये का बकाया है। इसके अलावा उसका घाटा भी हजारों करोड़ रुपये का है।