शाह की रैली में पिटा छात्र बोला- ‘मैं पागल हूँ’ लिखवाने के बाद पुलिस की रिहा

0
33

देश के गृहमंत्री अमित शाह की रैली में दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्र को वहां मौजूद भीड़ द्वारा उसके साथ जमकर मारपीट की गयी। छात्र हरजीत सिंह दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीए की पढ़ाई कर रहा है।

गृहमंत्री अमित शाह के चुनावी सभा के दौरान इस छात्र ने नागरिकता कानून के विरोध में नारेबाज़ी किया। जिसके बाद वहां मौजूद लोगों ने उसके साथ मारपीट शुरू कर दिया। दरअसल दिल्ली में अभी विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान चल रहा है।

गृहमंत्री अमित शाह बीते रविवार को दिल्ली के बाबरपुर इलाके में एक चुनावी सभा को सम्बोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने शाहीन बाग़ में प्रदर्शन कर रही महिलाओं के ऊपर आपत्तिजनक टिप्पणी भी की। इसी रैली में अचानक एक 20 साल का छात्र ने नागरिकता कानून के खिलाफ नारा लगाना शुरू कर दिया। जिसको वहां पीछे खड़े लोगों ने उसे बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया।

वहीं इस छात्र का कहना है कि ‘उस दिन नारा लगाने के बाद वहां मौजूद लोगों ने मुझे घसीटकर नीचे गिरा दिया। जिसके बाद लोगों ने मुझे कुर्सी से, लातों से बुरी तरह मुझे पीटा”। इस युवक का यह भी आरोप है कि पुलिस ने थाने ले जाकर जबरन उससे लिखवाया की वह पागल और दिमाग़ी तौर पर पागल है।

बता दें की दिल्ली युनिवर्सिटी के छात्र हरजीत सिंह ने दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा, ”रैली में मौजूद भीड़ द्वारा पीटे जाने के बाद दिल्ली पुलिस उन्हें थाने लेकर गयी और बिना किसी अपराध के लॉकअप में बंद कर दिया। पुलिस ने मुझसे कहा कि अगर मैं कागज़ पर ‘मैं पागल हूँ’ नहीं लिखता तो मुझे लॉकअप से बाहर नहीं निकलने दिया जाएगा।

छात्र ने यह भी बताया, जब मैंने नारा लगाना शुरू किया उसके बाद देश के गृहमंत्री ने कहा… अरे इसे ले जाओं, सिक्युरिटी वालों इस लड़के को बाहर ले जाओ। छात्र हरजीत ने कहा कि वह नहगत सिंह के बताये रास्तों पर चलना चाहता है। देश में सबको अपनी बात और असहमति बोलने का हक़ है।