मायावती ने चुन ली अपनी सीट, यहां से लड़ेंगी लोकसभा चुनाव

सियासत का हर जानकार यही बात बोलता है कि केंद्र की सत्ता का रास्ता यूपी से होकर गुजरता है. 2019 में बीजेपी और पीएम नरेंद्र मोदी के लिए इसी रास्ते को बंद करने की कोशिश में मायावती और अखिलेश यादव जैसे यूपी के दो बड़े नेता एक साथ आ गए हैं. ये दोनों अब एकसाथ लोकसभा चुनाव लड़ेंगे और बीजेपी को यूपी में ही रोकने की कोशिश करेंगे.

सपा के समर्थन के बावजूद राज्यसभा चुनाव में भले ही BSP के उम्मीदवार को शिकस्त का मुंह देखना पड़ा हो, लेकिन मायावती ने साफ कर दिया है कि 2019 का लोकसभा चुनाव वो अखिलेश यादव के साथ मिलकर ही लड़ेंगी. मायावती के इस रुख को देखते हुए यह सवाल भी उठने लगा है कि अखिलेश के साथ गठबंधन में मायावती खुद किस सीट से चुनाव लड़ेंगी?

यहां से लड़ेंगी चुनाव

इस सवाल के जवाब में बसपा से जुड़े एक नेता ने वेबसाइट वनइंडिया डॉट कॉम को बताया कि सपा-बसपा के गठबंधन में उनकी पार्टी सुप्रीमो मायावती यूपी की अंबेडकरनगर सीट से लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं.

इस बसपा नेता के मुताबिक, ‘2012 के विधानसभा चुनाव, 2014 के लोकसभा चुनाव और 2017 के विधानसभा चुनावों में मिली करारी हार के बाद पार्टी के कार्यकर्ताओं में हताशा का माहौल है. पार्टी कार्यकर्ताओं के उत्साह को पुनर्जीवित करने के लिए 2019 के लोकसभा चुनाव काफी अहम हैं, इसीलिए मायावती यूपी की अंबेडकरनगर सीट से खुद चुनाव मैदान में उतर सकती हैं.’

बता दें कि इससे पहले मायावती 1998, 1999 और 2004 में लोकसभा सांसद के तौर पर चुनी जा चुकी हैं. लेकिन इसके बावजूद अभी तक के ज्यादातर चुनावों में मायावती खुद मैदान में ना उतरकर चुनाव प्रचार की कमान संभालती रही हैं.