क्राइम

एक विवाहिता के इतने हत्यारे, मारते वक्त आखिर क्यों नही कांपे इन दरिंदो के हाथ !

पश्चिम विहार वेस्ट थाना पुलिस ने एक महिला की हत्या कर उसके शव को बैग में बंद कर ड्रेन में फेंकने के मामले में पति, जेठ और सास को गिरफ्तार कर लिया है। महिला की छह माह पहले ही आरोपित से शादी हुई थी।

बाहरी जिले के डीसीपी सेजू पी कुरुविला ने बताया कि 16 मई को ज्वालाहेड़ी ड्रेन के पास पुलिस को एक बैग पड़ा होने की जानकारी मिली।बैग की जांच की गई तो उसमें एक महिला का शव मिला, लेकिन तमाम कोशिशों के बाद भी पहचान नहीं हो पाई। बाद में पता चला कि निहाल विहार के लक्ष्मी पार्क से एक दंपति गायब है। फोटो से लोगों ने निखिल सिंह की पत्नी सरिता के रूप में शिनाख्त भी कर दी। इसके बाद पुलिस ने निखिल को नजफगढ़ से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने अपना अपराध स्वीकार कर लिया।

सरिता पहले से शादीशुदा थी और उसकी तीन साल की एक बेटी भी थी। छह माह पहले सरिता का संपर्क निखिल से हुआ। दोनों के बीच प्यार हो गया और दोनों ने शादी कर ली। दोनों परिवार के साथ सुल्तानपुरी इलाके में रहने लगे, फिर निहाल विहार के लक्ष्मी पार्क इलाके में किराए के मकान में यह दंपति रहने लगा। 14 मई की रात दोनों के बीच किसी बात पर झगड़ा हो गया। गुस्से में निखिल ने सरिता की गला घोंटकर हत्या कर दी। उसके भाई वरुण और मां गीता देवी को बुलाया। तीनों ने सरिता के शव को एक बैग में भर दिया। भाई की स्कूटी पर रखा और शव को ड्रेन में फेंक आए। शुक्रवार की रात पुलिस ने इस मामले में निखिल के भाई और उसकी मां को भी सुल्तानपुरी से गिरफ्तार कर लिया है।

Back to top button