मायानगरी

शोले के गब्बर के लिए अमजद नहीं थे पहली पसंद, इस विलेन ने ठुकराया था रोल क्योंकि..?

डैनी डेन्गजोंगपा जो विलेन के रोल के लिए बहुत ही ज्यादा मशहूर हैं और साथ ही उनकी दमदार आवाज भी जिससे अच्छे-अच्छे लोग भी सहम जाए। उन्होंने बॉलीवुड में एक से बढ़कर एक विलेन का रोल किया और आज भी वो एक बेहतरीन एक्टर के तौर पर जाने जाते हैं।

 

शोले फिल्म तो सभी के जहन में आज भी है और आज भी जब लोगों को शोले देखने का मौका मिलता है तो जरुर देखते हैं क्योंकि वो एक एतिहासिक फिल्म थी। शोले में निभाया गया हर किरदार बहुत ही ज्यादा बेहतरीन था और हर एक एक्टर ने अपने किरदार के साथ पूरी तरह से न्याय किया था। चाहे जय और विरू की दोस्ती का किरदार हो या फिर बसंती की चुलबुली लड़की का रोल, हर रोल में सारे एक्टर्स फिट बैठ रहे थें। इस फिल्म में एक और रोल था जिसने सभी को बहुत ही ज्यादा प्रभावित किया था और वो था फिल्म का मुख्य विलेन गब्बर सिंह का किरदार जिसे अमजद खान ने बहुत ही बेहतरीन तरीके से निभाया था।

 

आज हम आपको बताने वाले हैं गब्बर सिंह के रोल से जुड़ी कुछ अहम बाते जिसके बारे में शायद ही बहुत कम लोगों को पता हो। दरअसल, फिल्म के डायरेक्टर रमेश शिप्पी ने गब्बर सिंह के रोल के लिए अमजद खान की जगह किसी और एक्टर को लेना चाहते थें लेकिन, किसी कारणवस उस एक्टर ने इस एतिहासिक रोल को करने से इंकार कर दिया था। जिस एक्टर के बारे में हम बात कर रहे हैं वो और कोई नहीं बल्कि, डैनी डेन्जोंगपा थे। दैनिक भास्कर से बात करते हुए डैन ने बताया कि, आखिर क्यों उन्होंने गब्बर के रोल को करने से मना कर दिया था।

 

शोले को रीलीज हुए आज 43 साल हो चुके हैं और अब जाकर डैनी ने इस बात का खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि, जब रमेश सिप्पी ने गब्बर के रोल के लिए उनसे कहा था तो उस वक्त वो फिरोज खान को धर्मात्मा के लिए हां कर दिया था और फिरोज खान ने फिल्म की शूटिंग के लिए अफगानिस्तान सरकार से परमिशन भी ले ली थी। जिसके बाद फिल्म की शूटिंग को टालना बेहद ही मुश्किल था तो उन्होंने रमेश सिप्पी को मना कर दिया था।

Back to top button