धर्म

अगर अपने बच्चों को रखना है हमेशा सुरक्षित, तो अवश्य करें शनिदेव का ये उपाय

किसी भी माता पिता के लिए उसका बच्चा जान से भी प्यारा होता हैं. हर पेरेंट्स यही चाहते हैं कि उसका बच्चा जीवन में आगे बढ़े, सफलता हासिल करे और हमेशा स्वस्थ रहे. लेकिन कई बार बुरी किस्मत या ग्रहों की खराब दशा के चलते हमारे प्यारे मासूम बच्चों पर भी मुसीबतों का पहाड़ टूट जाता हैं. अचानक हुई अनहोनी, बीमारी, पढ़ाई या नौकरी में दिक्कतें कुछ ऐसी समस्याएं हैं जो किसी भी बच्चे की मुसीबतें बड़ा सकती हैं. ऐसे में माता पिता सबकुछ देख सकते हैं लेकिन अपने बच्चों की आँखों में आंसूं नहीं देख सकते हैं. इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जो आपके बच्चों को हमेशा मुसीबतों से बचा के रखेंगे.

दरअसल जब भी किसी पर कोई भारी मुसीबत आती हैं तो इस बात की काफी सम्भावना रहती है कि उसके ऊपर ग्रहों की कोई बुरी दशा चल रही हैं. ऐसे में इससे छुटकारा पाने के लिए शनिदेव काफी सहायक सिद्ध होते हैं. इसी बात को ध्यान रखते हुए आज हम आपको शनिदेव के कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जिसे करने पर आपके बच्चों पर कभी कोई मुसीबत नहीं आएगी. याद रहे ये उपाय सिर्फ बच्चे के माता पिता ही कर सकते हैं.

बच्चों को मुसीबतों से दूर रखने के उपाय

1. शनिवार के दिन माता पिता स्नान कर शनिदेव के मंदिर जाए. यहाँ पिता शनिदेव को काला तिल चढ़ाए और माता तिल के तेल का दीपक प्रज्वलित करे. इसके बाद दोनों मिलकर शनिदेव से अपने बच्चे को लेकर मनोकामना या समस्यां का जिक्र करे. अब चढ़ाए गए काले तिल के कुछ दाने अपने साथ घर ले आए. रात में जब आपका बच्चा सो रहा हो तो ये काले तिल को मुट्ठी में बाँध उसके ऊपर से 21 बार घुमा दे. इसके बाद अगले दिन इन तिल के दानो को किसी बहती नदी में डाल दे. ऐसा करने से आपके बच्चों पर चल रहे सारे कुप्रबाव समाप्त हो जाएंगे.

2. एक घोड़े की नाल ख़रीदे और उस पर काली स्याही से अपने बच्चे का नाम लिख दे. इसके बाद इस घोड़े की नाल को तिल के तेल में डुबो दे और शनि मंदिर में दान कर दे. ऐसा करने से आपके बच्चों का भाग्य प्रबल होगा और उसके सारे बिगड़े काम बन जाएंगे.

3. बच्चो की सलामती के लिए 21 शनिवार का व्रत रखे. ये उपवास माता और पिता दोनों को ही रखना हैं. प्रत्येक शनिवार शनि मंदिर में जाकर तेल दान करे. 21वें शनिवार को अपने बच्चों के हाथो से किसी गरीब को काले वस्त्र और लोहे की कोई वस्तु दान करवाए. ऐसा करने से बच्चों पर चल रहे गृह नक्षत्रो के दुष्प्रभाव समाप्त हो हाते हैं.

4. शनिवार के दिन घर में छोटा सा हवन करवा दे. इस हवन में अपने बच्चों को भी साथ में बैठने का कहे. हवन के माध्यम से आपके बच्चे के अन्दर की नकारात्मक उर्जा निकल जाएगी और उसके अन्दर सकारात्मक उर्जा का प्रवाह होगा. इस तरह आपका बच्चा हमेशा सही रास्ते पर ही चलेगा. ये उपाय उन लोगो के लिए काफी लाभकारी हैं जिनके बच्चे गलत रास्तों पर चले जाते हैं.

Back to top button