ख़बरदेश

दम तोड़ रहा है देश का भविष्य, निश्चिंत होकर मौत का खेल देख रहे हैं सरकार

मुज़फ़्फ़रपुर में जिस तरह AES ने  मौत का तांडव मचा रखा है, ऐसे में वहां CM क्या PM को भी जाकर देखना चाहिए कि देश की स्वास्थ्य व्यवस्था कितनी तगड़ी है. लापरवाही और लचर व्यवस्था का इससे बेहतर तस्वीर नहीं हो सकती. कितने बड़े-बड़े दावे किए जा रहे थे लेकिन एक बीमारी के इलाज का पता लगाने में हम नाकामयाब रहे जिसकी वजह से बच्चे लगातार मौत के मुंह मे जा रहे हैं और हम मूकदर्शक बने बैठे हैं.

बिहार CM नीतीश का मुज़फ़्फ़रपुर अस्पताल के बाहर परिजन विरोध कर रहे हैं. AES से मरनेवालों की तादाद लगातार बढ़ रही है, लोग दोषियों पर कार्रवाई  की मांग कर रहे हैं. लोग नीतीश वापस जाओ के नारे लगा रहे हैं. CM 19 दिन बाद मुज़फ़्फ़रपुर गए है.

हम दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति लगाने का दावा कर रहे हैं, बुलेट ट्रेन चलाने की बात कर रहे हैं लेकिन एक बीमारी का इलाज नहीं ढूंढ पा रहे. देश में स्वास्थ्य व्यवस्था का क्या हाल है बताने की जरूरत नहीं.

वोट लेना होता तो अबतक PM भी जाकर दम्भ भर आते लेकिन मासूम की मौत पर मौन होकर मौत का खेल देख रहे हैं. इतने बच्चों की मौत के बाद सीएम तो क्या पीएम को भी जाकर देखना चाहिए कि पहले देश मे बेहतर स्वास्थ्य की जरूरत है या ऊंची मूर्ति और बुलेट ट्रेन की.

जागो सरकार, देश का भविष्य दम तोड़ रहा है और आप निश्चिन्त होकर मौत का खेल देख रहे है.

ये लेख वरिष्ठ टीवी पत्रकार विनय कुमार के फेसबुक पेज से साभार लिया गया है। ये लेखक के निजी विचार हैं।

Back to top button