धर्म

किन्नर आए नजर तो फौरन बोल दें ये 2 शब्द, चारों ओर से आने लगेगा धन

हमारे समाज में स्त्री और   पुरूष के अलावा भी एक और वर्ग होता है जिसे किन्नर  या हिंजरा के नाम से जाना जाता है। किन्नरों के रहन-सहन से लेकर, किन्नरों की जिंदगी के बारे में जानने के लिए काफी उत्सुक रहते है और साथ ही यह एक ऐसा विषय भी है जिसके बारे में लोग खुलकर बात करना भी पसंद नहीं करते है। यहीं वजह है कि किन्नरों के बारे में लोग आज भी खुलकर बात नहीं करते।

किन्नरों की दुनिया जितनी अलग है, इनके संसकार और रीति-रिवाज भी उतने ही अलग होते है। किन्नर समुदाय खुद को मंगलमुखी समझते है इसलिए वह सिर्फ विवाह और जन्म समारोह में ही भाग लेते है। मरने के बाद भी किन्नर मातम नहीं मनाते बल्कि खुशियां मनाते है कि इस जन्म से पीछा छूट गया। ऐसा देखा जाता है कि घर में जब भी किसी का जन्म हो या फिर विवाह समारोह हो  इन सभी शुभ अवसरों पर बधाई लेने आते है। इन्हें इनके तालियों से और इनकी आवाज से कोई भी आसानी से पहचान लेता है कि ये किन्नर है।

जब भी कोई त्यौहार नजदीक आता हैं तो तरह तरह के लोग दक्षिणा मांगने के लिए आ जाते हैं. सिर्फ त्यौहार ही नहीं बल्कि यदि किसी के यहाँ शादी होती हैं, बच्चा पैदा होता हैं या नया मकान बनता हैं तो तब भी ये किन्नर वहां तत्काल आ जाते हैं.जब भी किन्नर किसी ख़ास मौके पर घर आते हैं तो पैसा लिए बिना वापस नहीं जाते हैं. दूसरी तरफ लोग भी इन्हें पैसा देने में आना कानी नहीं करते हैं. कुछ लोग ख़ुशी ख़ुशी इन्हें पैसा दे देते हैं तो वहीँ कुछ मन मारकर या डर से पैसा निकाल दे देते हैं.

आमतौर पर जब भी कोई किन्नर पैसा मांगने घर, दूकान या ऑफिस में आता हैं तो आपकी कोशिश रहती हैं कि जितना जल्दी हो सके उसे पैसे देकर रवाना कर दे. ऐसे में जब किन्नर को आप पैसे देते हैं और वो आपके घर से जा रहा होता हैं तो आप उसे कुछ नहीं बोलते हैं. किन्नरों से जुड़ी आप कई बातें जानते होंगे लेकिन एक बात ऐसी भी है जो शायद आप नहीं जानते होंगे।

आज हम आपको उन दो शब्दों के बारे में बताने जा रहे है जो अगर आप जब किन्नर पैसे लेकर जा रहे हो तब बोल देंगे तो आपकी किस्मत चमक जाएगी। ऐसा करने से आपको धन लाभ होगा और आपकी धन से जुड़ी सारी समस्याएं खत्म हो जाएगी। जब भी किन्नर आपके घर से पैसे लेकर जाएं तो आप बस ये कह बोले ‘और आइएगा’। ये वो दो शब्द हैं  जो देखने में साधारण है लेकिन ये बेहद चमत्कारी सिद्ध होते है।

किन्नर को दिया गया दान शुभ माना जाता हैं ऐसे में जब आप उन्हें और आने का कहते हैं तो उन्हें भी एहसास होता हैं कि आप ने ये दान दिल से दिया हैं ना कि डर या मजबूरी के. इसलिए वो जाते जाते आप को दिल से दुआएं देके जाते हैं और जब भी कोई किन्नर दिल से दुआ देता है तो उसकी दुआ बहुत ही जल्द रंग लाती है  और आपके जीवन से  सभी कष्ट दूर हो जाते है साथ ही किन्नर जब अगली बार आपके घर आएगा तो आपको और भी ज्यादा स्नेहपूर्वक दुआएं देता जाएगा जिससे आपके सभी आर्थिक कष्ट समाप्त हो जायेगा

Back to top button