सेहत

दही के साथ यह चीज़ खाने वाले जरूर पढ़ लें ये खबर, वरना बाद में पड़ेगा पछताना

आपने कई बार अपने घर परिवार में बड़े बुजुर्गों को ऐसा कहते सुना होगा की कई चीजों को नहीं खाना चाहिए या कुछ चीजों के साथ कुछ दूसरी छीजोन्न को मिला कर नहीं खाना चाहिए। इसी के साथ आपने यह भी जरूर सुना होगा की जब भी आप दही खा रहे हों उसके साथ आपको कभी भी नमक नहीं खाना चाहिए। कहा जाता है की जब भी आपको दही खाना हो तो आप हमेशा दही को मीठी चीज़ों के साथ खाएं जैसे कि चीनी, गुड आदि के साथ। अगर आपने बचपन में विज्ञान की कक्षाएं पढ़ी होंगी तो आपको यह भी जरूर पता होगा की दही को बैक्टीरिया की मदद से जमाया जाता है और यदि आप किसी अच्छे लेंस आदि से दही में देखते है तो आपको इसमे ढेरों बैक्टीरिया जीवित अवस्था में आपको इधर-उधर चलते फिरते नजर आएंगे।

दही को आयुर्वेद की भाषा में जीवाणुओं का घर माना जाता है औ अगर आप एक कप दही में जीवाणुओं की गिनती करने की कोशिश करते है तो आपको करोड़ों जीवाणु नजर आएंगे वह भी जीवित अवस्था में, हालांकि आपकी जानकारी के लिए यह बताना चाहेंगे की ये सभी जीवाणु हमारी सेहत के लिए नुकसानदायक नही होते है मगर ये हमारे लिए तब और भी ज्यादा मददगार साबित होते है जब आप मीठा दही खाते है या दही के साथ कोई मीठा पदार्थ खाते है। जबकि दूसरी तरफ आपको बताना चाहेंगे की अगर आप दही में एक चुटकी भर भी नमक भी मिला लेते है तो मात्र मिनटभर में सारे बैक्टीरिया मर जाते है और उनके अवशेष हमारे अंदर जाते है जो अब हमारे किसी भी काम नहीं आते बल्कि कुछ ना कुछ नुकसान ही करते है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की हमारे आयुर्वेद में बताया गया है की आप दही में हमेशा ऐसी चीज़ ही मिलाएं जिससे दही में मौजूद जीवाणुओं को बढ़ोतरी हो ना कि उन्हें मारे या खत्म कर दे। आपको बता दें की यदि आप दही को गुड़ के साथ या फिर चीनी के साथ खाते है तो इससे जीवाणुओं की संख्या मल्टीप्लाई हो जाती है और वह एक करोड़ से दो करोड़ तक हो जाते हैं। इसी तरह यदि आप दहि में गुड मिलते है तो उसका असर और भी ज्यादा दिखते है और आपको बता दें की यदि आप अपनी दही में मिश्री को मिलते है तो इससे आपकी दही पहले से कई गुना ज्यादा फायदेमंद हो जाती है और एक तरह से देखा जाए तो ये सोने पर सुहागे का काम करेता है।

शायद आपको इस बात की जानकरी नही होगी मगर हम आपको बता दें की प्राचीन समय में भगवान कृष्ण भी खूब दही खाते थे और आपको यह जानकार काफी आश्चर्य होगा की श्री कृष्ण जी हमेशा को मिश्री के साथ ही खाते थे। आपको बता दें की यदि आप अपने खुद के घर में बड़े-बुजुर्गों से पूछेंगे तो डबल्यूपी आपको जरूर बताएँगे की वो लोग और पुराने समय के लोग अक्सर दही में गुड़ डाल कर खाया करते थे, इससे दहि के फायदे और भी बढ़ जाते है।

Back to top button