क्राइम

रोज-रोज के दर्द से तो अच्छा है एक बार में किस्सा ही ख़त्म कर दो…बस वही किया !

पति के द्वारा पत्नी को मार के लिए इमेज परिणाम

नई दिल्ली जिले के साउथ एवेन्यू स्थित सांसद निवास के कर्मचारी आवास (सर्वेंट क्वार्टर) में एक युवक की गई हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। इस संबंध में पुलिस ने मारे गए व्यक्ति की पत्नी अंजु (34) और उसके करीबी रिश्तेदार शिवम ठाकुर (21) को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में पुलिस ने एक नाबालिग को भी पकड़ा है, जिसने मात्र सात हजार रुपये की सुपारी लेकर सुरेश की हत्या की थी।

नई दिल्ली जिले के डीसीपी मधुर वर्मा ने बताया कि बीते 7 जून को सूचना मिली थी कि पश्चिम बंगाल के एक सांसद के कर्मचारी आवास में एक व्यक्ति की गला रेतकर हत्या कर दी गई है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। हत्या सुरेश की हुई थी। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर जांच शुरू की। सुरेश की पत्नी अंजु के विरोधाभासी बयान पर पुलिस को शक हुआ। उससे और शख्ती से पूछताछ की तो उसने बेहद चौकाने वाला खुलासा किया।

आरोपित अंजु ने बताया कि वह सुरेश के सट्टा खेलने को लेकर परेशान थी। उसके कई जानकार आते रहते थे। सुरेश से अक्सर उसकी कहासुनी होती थी। वह उसे मारता-पीटता था। परेशान होकर उसने कुछ दिनों पहले आत्महत्या करने के लिए जहर भी खा लिया था, लेकिन परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही थी। आखिरकार उसने एक रिश्तेदार शिवम से बात की। उसने सुरेश को ही रास्ते से हटाना का उपाय बताया। इसके बाद इन दोनों ने सुरेश की हत्या की साजिश रच डाली।

डीसीपी के अनुसार जांच के दौरान पुलिस टीम को पता चला कि घटना के समय घर से दो लोगों को भागते हुए देखा था। पुलिस ने इसी आधार पर घर आने-जाने वालों के बारे में पता किया। अंजु के फोन की सीडीआर निकाली तो उसमें शिवम का नाम सामने आया। इसके बाद पुलिस ने अंजु पर और शिकंजा कस दिया। आखिरकार उसने घुटने टेक दिए। गुरुवार को पुलिस ने मेरठ में छापेमारी कर आरोपित शिवम को भी गिरफ्तार कर लिया और नाबालिग को भी पकड़ लिया।

आरोपितों के अनुसार सुरेश की जब हत्या की गई थी, उस समय अंजु बेटे के साथ टहलने जाने की बात कहकर घर से चली गई थी। बाद में लौटी तो शिवम नाबालिग साथी के साथ मिलकर सुरेश का कत्ल कर चुका था। लेकिन पुलिस और कानून को धता देना आसान नहीं होता, पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार कर ही लिया।

 

 

Back to top button