Video: सरेआम रोते हुए बोलीं साध्‍वी प्रज्ञा- जेल में पीटने वाले बदलते थे, पिटने वाली मैं ही रहती

0
58

भोपाल संसदीय सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर एक जनसभा को संबोधित करते हुए रो पड़ीं. साध्वी प्रज्ञा ने रोते हुए कहा कि उनके साथ कैसा बर्ताव किया गया. साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि मुझे लटकाने की धमकी देते थे. मुझे नहीं पता था ये लोग ऐसा क्यों कह रहे हैं.

सबके बीच साध्वी प्रज्ञा ने अपने जेल के दिनों को याद करते अपना दर्द बयां किया. साध्वी प्रज्ञा ने कहा, ‘जब मुझे लेकर गए गैर कानूनी तरीके से 13 दिन तक रखा. पहले ही दिन बिना कुछ पूछे हुए, उन्होंने मुझे बुलाया, ढेर पुलिस थी और मुझे बुलाकर उन्होंने जो पीटना शुरू किया. उन्होंने मुझे चौ़ड़ी बेल्ट (फट्टे) से मारा, जिसमें लकड़ी का एक हत्था लगा होता है. उस बेल्ट से मारते थे. एक भी बेल्ट हाथ में पड़ता है तो पूरा सूज जाता है. आप अगर दूसरा बेल्ट झेल पाएंगे तो आपके हाथ फट जाएंगे. ये जो बेल्ट मारते थे पूरा नर्वस सिस्टम ढीला पड़ जाता था. सुन्न पड़ जाते थे. और ये दिन और रात पीटते थे.‘

वो आगे बोलीं कि, ‘मैं आपके सामने अपनी पीड़ा नहीं बता रही हूं, लेकिन इतना कह रही हूं कि और कोई बहन आज के बाद कभी भी इस पीड़ा का सामना न कर सके. इतनी गंदी गालियां देते थे, पीटते-पीटते. धमकाते थे उल्टा लटका देंगे. तुझे निर्वस्त्र कर देंगे. असहनीय है मेरे लिए कहना.’

बीजेपी प्रत्याशी ने कार्यकर्ताओं को बताया कि जेल में किस तरह से उन्हें टॉर्चर किया जाता था. इस दौरान कई बार उनकी आंखें भर आईं. वह बार-बार अपने आंसू पोंछते हुए कार्यकर्ताओं को संबोधित करती रहीं.